31 अगस्त तक सभी स्कूल-कॉलेज बंद रखने को केंद्र सरकार की गाइडलाइन, फिर भी शिक्षकों को लगाया ड्यूटी पर

फोटो- कलेक्टोरेट में शिक्षकों ने सौंपा ज्ञापन, कोरोना के काम से मुक्त रखने की मांग ।

रायपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

कोरोना को देखते हुए राज्य सरकार ने 31 अगस्त तक स्कूल-कॉलेज बंद रखने का फैसला लिया है। इसके बावजूद शिक्षकों को स्कूल के अलावा अन्य कामों से मुक्त नहीं किया गया है। कुछ दिन पहले प्रमुख सचिव डॉ. आलोक शुक्ला ने शिक्षकों की शिक्षण कार्य के अलावा अन्य कामों में ड्यूटी नहीं लगाने के लिए सभी कलेक्टरों को निर्देश जारी किए थे। इसके बाद भी शिक्षकों को स्कूलों में कागजी कामों और कोरोना संक्रमण के दौरान सर्वे काम में लगाया गया है। इसका विरोध भी शुरू हो गया है। शिक्षक संघ ने कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन को ज्ञापन सौंपकर इन ड्यूटी से मुक्त रखने की भी मांग की है। अकेले रायपुर में ही एक हजार से अधिक शिक्षकों को कोरोना की ड्यूटी में लगा दिया गया है। इससे ऑनलाइन कक्षाएं भी प्रभावित हो रही हैं।

शिक्षकों ने सौंपा कलेक्टर को ज्ञापन

शालेय शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष वीरेंद्र दुबे और रायपुर जिलाध्यक्ष भानुप्रताप डहरिया के नेतृत्व में कलेक्टर रायपुर को ज्ञापन सौंपा। इसमें शिक्षकों ने बताया कि जिले में बड़ी संख्या में शिक्षकों की कोरोना महामारी से संबंधित ड्यूटी लगाई जा रही है, जबकि पूरे राज्य में विद्यालयों में प्रवेश, निशुल्क गणवेश, निशुल्क साइकिल वितरण, छात्रवृत्ति, मध्या- भोजन ऑनलाइन पढ़ाई आदि कामों पर भी ड्यूटी लगा दी गई है, जिन्हें अगस्त में ही पूर्ण किया जाना है । ऐसी स्थिति मे शिक्षकों का अन्य स्थानों में ड्यूटी लगाया जाना कतई उचित नहीं है । शिक्षक संघ ने मांग की है शिक्षण काम में लगे शिक्षकों को कोरोना महामारी से संबंधित ड्यूटी से मुक्त रखा जाए। विशेष परिस्थितियों में शिक्षकों की ड्यूटी लगाई जाने पर ध्यान रखा जाए कि महिलाओं,बुजुर्गो,दूर पदस्थ कर्मचारियों और समस्याओं से ग्रस्त कर्मचारियों की ड्यूटी कदापि न लगे । साथ ही ड्यूटी लगे शिक्षकों का एक करोड़ रुपये का बीमा किया जाए।

वर्जन

शिक्षक अभी बच्चों के घर तक किताबें पहुंचा रहे हैं। दाखिले की प्रक्रिया चल रही है। जो शिक्षक शैक्षणिक कामों में नहीं हैं सिर्फ उनको ही कोरोना की ड्यूटी पर लगाया गया है। - जीआर चंद्राकर, डीईओ, रायपुर

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020