रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। छत्तीसगढ़ के 21 जिलों में 24 नवंबर तक कोरोना का कोई नया मामला नहीं आया। इस दिन प्रदेश भर में हुए 24 हजार 306 सैंपलों की जांच में 19 व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाए गए। अभी प्रदेश की औसत पाजिटिविटी दर 0.08 प्रतिशत है। राज्य के पांच जिलों कबीरधाम, गौरेला-पेंड्रा-मरवाही, बलरामपुर-रामानुजगंज, सुकमा और नारायणपुर में अभी कोरोना का एक भी सक्रिय मरीज नहीं है।

राज्य के राजनांदगांव, बेमेतरा, बालोद, कबीरधाम, धमतरी, बलौदाबाजार-भाटापारा, महासमुंद, गरियाबंद, बिलासपुर, मुंगेली, गौरेला-पेंड्रा-मरवाही, सरगुजा, कोरिया, सूरजपुर, बलरामपुर-रामानुजगंज, बस्तर, कोंडागांव, सुकमा, कांकेर, नारायणपुर और बीजापुर जिले में कोरोना संक्रमण का एक भी मामला नहीं आया है। इस दिन रायगढ़, कोरबा, जांजगीर-चांपा और दंतेवाड़ा में एक-एक, जशपुर में तीन, रायपुर में पांच और दुर्ग में सात व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाए गए। प्रदेश में अभी सक्रिय कोरोना मरीजों की संख्या 310 है।

श्री रावतपुरा सरकार इंस्टिट्यूट आफ फार्मेसी में हुआ ओरिएंटेशन प्रोग्राम

श्री रावतपुरा सरकार ग्रुप आफ़ इंस्टिट्यूशन के कुम्हारी स्थित श्री रावतपुरा सरकार इंस्टिट्यूट आफ फार्मेसी में फार्मेसी के छात्रों के लिए नेशनल फार्मेसी सप्ताह मनाया गया। संजीवनी के साथ ओरिएंटेशन प्रोग्राम का आयोजन किया गया। नेशनल फार्मेसी सप्ताह की थीम फार्मासिस्ट अन इंटीग्रल पार्ट आफ हेल्थ केयर इंडियन फार्मास्यूटिकल एसोसिएशन द्वारा दी गई। कैंपस निदेशक एमके श्रीवास्तव ने कहा कि'छात्रों को दूरदृष्टि और फार्मेसी में नए अवसरों का पता लगाने के लिए प्रयास करना चाहिए, इससे संस्थान का समग्र विकास होता है। प्रधानाचार्य डा. अंशिता गुप्ता सोनी ने कहा कि नेशनल फार्मेसी सप्ताह का मुख्य उद्देश्य स्वास्थ्य देखभाल के पेशे में फार्मासिस्ट के प्रयासों को स्वीकार करना है।

Posted By: Ravindra Thengdi

NaiDunia Local
NaiDunia Local