रायपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

एकल प्लास्टिक के उपयोग को रोकने के लिए जिला प्रशासन के मार्गदर्शन में पूरा शहर एकजुटता का प्रयास करेगा। इसके लिए शुक्रवार को रायपुर नगर निगम के सभा कक्ष में कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला में शहर के सामाजिक, स्वयंसेवी संगठनों, स्व-सहायता समूहों को संबोधित करते हुए कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन ने कहा कि नो प्लास्टिक रायपुर अभियान में प्रशासन व नागरिक संस्थाएं सामूहिक प्रयास कर इसे महा अभियान का रूप देंगी। कार्यशाला में महापौर प्रमोद दुबे के साथ वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आरिफ शेख, नगर निगम कमिश्नर शिव अनंत तायल समेत स्वयंसेवी संगठनों के पदाधिकारियों ने भी अपने विचार व्यक्त करते हुए जनभागीदारी से प्रतिबंधित प्लास्टिक के उपयोग को रोकने सामूहिक व व्यापक पहल पर जोर दिया गया।

शहर की पहचान दिलाने वाले होंगे ब्रांड एंबेसडर

सीधी भागीदारी के साथ इसे जन अभियान बनाने खेल, शिक्षा, साहित्य, कला समेत अन्य महत्वपूर्ण विधाओं में शहर को पहचान दिलाने वाले नागरिकों को नो प्लास्टिक एंबेसडर मनोनीत किया जाएगा। स्कूल, कॉलेज, शासकीय व गैर शासकीय संगठनों, परिसरों में जाकर प्लास्टिक से बनी वस्तुओं के उपयोग न करने एनजीओ व प्रशासन मिलकर जागरूक करेंगे।

नुक्कड़ नाटक से किया जाएगा जागरूक

नगर निगम के कचरा वाहनों में ऑडियो के माध्यम से हर गली-मोहल्ले में इस संबंध में संदेश दिया जाएगा। यही नहीं, झुग्गी बस्तियों समेत पॉश कालोनियों में भी नुक्कड़ नाटक के जरिए जागरूकता अभियान संचालित कर नो प्लास्टिक जोन घोषित करने की शुरुआत की जाएगी। रायपुर शहर में हर आयोजन में प्रतिबंधित प्लास्टिक से बनी वस्तुओं का उपयोग न करने का संदेश अनिवार्य किया जाएगा।

टीचर मीटिंग में पालकों को लिखित में देंगे संदेश

स्कूल प्रबंधन बच्चों के एल्मनेक व पैरेंट्स, टीचर्स मीट में स्कूल प्रबंधन सभी पालकों को यह लिखित संदेश प्रसारित करेगा कि बच्चों को प्लास्टिक से बने बॉटल व टिफिन उपयोग हेतु न दें एवं बाजार से सामान क्रय के लिए कपड़े व जूट से बने थैलों का उपयोग करें।

पुलिस परिवार भी देगा साथ

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आरिफ शेख ने कार्यशाला में एनजीओ की बड़ी उपस्थिति को महत्वपूर्ण बताते हुए कहा कि इस अभियान में जिला पुलिस की पूरी भागीदारी होगी। पुलिस प्रशासन भी रायपुर को पूरे देश में एक मिसाल के तौर पर प्रस्तुत करने अपने स्तर से पूरा सहयोग करेगा।

स्वास्थ्य अमले को दी जाएगी महत्वपूर्ण जिम्मेदारी

आयुक्त श्री तायल ने कहा कि प्लास्टिक के उपयोग को रोकने नगर निगम में स्मार्ट सिटी सभी संगठनों के साथ मिलकर काम करेगा, इसके लिए सभी जोन सहित स्वच्छ भारत मिशन, स्वास्थ्य, शहरी आजीविका मिशन के अमले को भी महत्वपूर्ण जिम्मेदारी सौंपी जा रही है।