रायपुर। केंद्रीय सरकार की नई शिक्षा नीति आने से पहले ही मसीही समाज भयभीत हो उठा है। छत्तीसगढ़ क्रिश्चियन फोरम के अध्यक्ष अरुण पन्नालाल ने आपत्ति जताई है कि राज्य शिक्षण बोर्ड समाप्त कर सिर्फ एक ही राष्ट्रीय शिक्षण बोर्ड होगा।

शिक्षा प्रबंधन को राज्यों से छीनने से मूल फेडरल स्ट्रक्चर ही ध्वस्त हो जाएगा। इसका गंभीर परिणाम हमारी आने वाली पीढ़ी को भुगतना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि सभी प्रदेशों में आंगनबाड़ी बंद कर दी जाएंगी।

इनका विलय बड़े स्कूल कॉम्प्लेक्स से होगा। जिनका विद्यार्थी संख्या पांच हजार से कम नहीं है, साथ ही 25 हजार रुपये तक होगी। एक ही प्रांगण में संचालन अनिवार्य होगा। इसके अलावा अन्य कई संभावनाओं को व्यक्त किया।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना