रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। छत्‍तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के 32 थानों में वीडियो के साथ-साथ आडियो वाले सीसीटीवी कैमरे लगाए जा रहे हैं। बजट में मिले पैसों से ये काम किया जा रहा है। इसके लिए टेंडर के माध्यम से एजेंसी को काम दे दिया गया है। पुलिस अधिकारियों के अनुसार, सभी थानों में चार-चार सीसीटीवी कैमरे लगे हैं। अब दो-दो आडियो रिकार्ड करने वाला कैमरा लगाया जा रहा है। इन कैमरों की रिकार्डिंग डेढ़ वर्ष तक सुरक्षित रहेगी। पंडरी और खम्हारडीह थाने से इसकी शुरुआत हो चुकी है। इस नई व्यवस्था के पीछे अधिकारियों का तर्क है कि थानों में क्या हो रहा है, इसे देखने के साथ आवाज सुनकर पूरी जानकारी ली जा सकेगी।

पीड़ितों से दुर्व्यवहार और वसूली की शिकायतें

थाने में कई बार पीड़ितों से दुर्व्यवहार और वसूली की शिकायतें रहती हैं। आगे ऐसी किसी शिकायत पर कैमरे के फुटेज देखने के साथ ये भी सुना जा सकेगा कि पीड़ित और पुलिस कर्मियों के बीच क्या बातें हो रही हैं? फुटेज और वाइस रिकार्डिंग सुनकर स्पष्ट हो जाएगा कि गलती किसकी है? अधिकारियों ने कहा कि नई तकनीक के कैमरे लग जाने पर थाना प्रभारी कहीं से भी अपने थाने की निगरानी कर सकेंगे। इससे थानों में होने वाली घटनाओं में कमी आएगी। बता दें कि घटनाओं की निष्पक्ष जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट ने आवाज रिकार्ड करने वाले कैमरे लगाने के निर्देश दिए हैं।

थाने का घेराव या प्रदर्शन पर निगरानी

थाने का घेराव या प्रदर्शन की स्थिति में पुलिस वालों पर दुर्व्यवहार और मारपीट का आरोप लगता है। खासतौर पर महिलाओं और नाबालिगों से दुर्व्यवहार की शिकायतें आये दिन आती रहती है। कैमरे लगने से ऐसी घटनाओं की जांच में आसानी होगी।

मोबाइल में देखकर रहे थाने का काम

जिले के कई थानेदारों ने थाने में लगे सीसीटीवी सिस्टम को अपने मोबाइल से जोड़ लिया है। इससे ला एंड आर्डर की ड्यूटी या घर पर रहने के दौरान वे थानों के कामकाज को मोबाइल से देख लेते हैं। थाने के लाकअप में किसे बैठाया गया है, उससे क्या और किस तरह पूछताछ की जा रही है, ये सारी बातें उनकी जानकारी में रहती है। आवश्यकता पड़ने पर स्टाफ को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए जा रहे हैं।

जिले में वीडियो के साथ आडियो रिकार्डिंग वाले सीसीटीवी कैमरे लगने शुरू हो गए हैं। शुरुआत में दो थानों में इसका प्रयोग किया गया, जो सफल रहा। अब शीघ्र ही शेष थानों में इसे लगा दिया जाएगा। - प्रशांत अग्रवाल, एसएसपी, रायपुर

Posted By: Kadir Khan

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close