रायपुर। Guru Nanak Jayanti 2020: गुरु नानक जयंती पर 30 नवंबर को शहरभर में होने वाले विभिन्न कार्यक्रमों के लिए जिला प्रशासन ने गाइडलाइन जारी कर दी है। इस दिन गुरुद्वारों में केवल 50 फीसद लोग ही एक समय पर भीतर जा सकेंगे। यानी गुरुद्वारे के भीतर क्षमता के अनुसार केवल आधे लोग ही एक समय में एक साथ जा पाएंगे। किसी भी तरह की भीड़ वाले कीर्तन, रैली और सांस्कृतिक कार्यक्रमों पर पूरी तरह से प्रतिबंध होगा।

गुरुद्वारे के आस-पास श्रद्धालुओं को मास्क बहना अनिवार्य होगा और हैंड सैनिटाइजर रखना भी जरूरी होगा। कोरोना वायरस संकट के मद्देनजर जिला प्रशासन ने सभी गुरुद्वारे के आयोजकों को संक्रमण को लेकर जारी की गई गाइडलाइन का कठोरता से पालन करने सुनिश्चित करने के लिए कहा है। वहीं, पटाखों को फोड़ने के लिए भी गाइडलाइन जारी की गई है। पटाखे भी केवल 2 घंटे रात 8:00 से 10:00 के बीच फोड़े जा सकेंगे।

ये है गाइडलाइन

- गुरु नानक जयंती के सारे कार्यक्रम गुरुद्वारे के भीतर ही संपन्न कराने होंगे।

- शोभा यात्रा और सांस्कृतिक कार्यक्रमों में प्रतिबंध लगा दिया गया है। केवल सोशल मीडिया के माध्यम से ही प्रचार प्रसार किया जा सकेगा।

- गुरुद्वारे के भीतर गुरुद्वारे की क्षमता के अनुसार एक साथ में केवल 50 फीसदी लोग ही अंदर जा पाएंगे और इसकी निगरानी और मानिटरिंग करने की जिम्मेदारी गुरुद्वारे के प्रबंधक की होगी।

- गुरुद्वारे में जो भी लंगर लगाए जाएंगे और प्रसाद होंगे, वे पैकेट के माध्यम से श्रद्धालुओं के बीच वितरित किए जाएंगे।

- गुरुद्वारे को सैनिटाइजर से सैनिटाइज करना आवश्यक होगा। सभी लोगों को मास्क पहनना अनिवार्य होगा।

Posted By: Shashank.bajpai

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस