रायपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि। बगैर पासपोर्ट के भारत के बाहर नहीं जा सकते। विदेश घूमने जाना हो या उच्च शिक्षा के लिए, पासपोर्ट जरूरी है। इसे देखते हुए दिनोंदिन पासपोर्ट के आवेदन बढ़ते जा रहे हैं। छत्तीसगढ़ में इस वर्ष सातों पोस्ट ऑफिस और पासपोर्ट केंद्र मिलाकर लगभग 50 हजार आवेदन आए, जिनमें से लगभग 48 हजार को पासपोर्ट बनाकर दे दिया गया है। जो आवेदन आए उनमें सबसे अधिक रायपुर से 10 हजार रहे।

अब पासपोर्ट बनवाना सरल हो गया

डिजिटल इंडिया के इस दौर में अब पासपोर्ट बनवाना सरल हो गया है। कुछ वर्ष पहले तक लोगों को पासपोर्ट बनवाने के लिए लंबी लाइन से गुजरना पड़ता था। फर्जी वेबसाइट के माध्यम से लोगों से दोगुनी रकम वसूली जाती थी। इन तमाम दिक्कतों से लोगों को राहत दिलाने के लिए केंद्र सरकार ने सभी प्रक्रिया ऑनलाइन कर दी है। इससे लंबा इंतजार तो खत्म हुआ ही, लोगों को घर बैठे पासपोर्ट मिलना शुरू हो गया है।

पासपोर्ट के लिए आवेदन में स्टूडेंट्स अधिक

इस संबंध में मिली जानकारी के अनुसार पासपोर्ट के लिए आवेदन करने वालों में सर्वाधिक संख्या विद्यार्थियों की है। अधिकतर विद्यार्थी विदेशों में पढ़ाई, रिसर्च और घूमने के लिए पासपोर्ट बनवा रहे हैं। पासपोर्ट बनवाने में स्टूडेंट्स के बाद दूसरे नंबर पर सर्वाधिक संख्या कारोबारियों की है।

पासपोर्ट बनवाने के लिए जल्द खुलेंगे नए केंद्र

पासपोर्ट बनवाने के लिए लोगों को अधिक परेशानी न हो, इसके लिए केंद्रों को बढ़ाया जाएगा। कोरबा, राजनांदगांव आदि स्थानों पर जगह तलाशी जा रही है। जगह फाइनल होते ही पासपोर्ट केंद्र खोल दिया जाएगा।

Posted By: Nai Dunia News Network