रायपुर। Fight From Corona: कोरोना संकटकाल में लोग जहां अपनों की मदद करने से कतरा रहे हैं, वहीं रायपुर का पुलिस परिवार रोज किसी ने किसी गरीब, कमजोर तबके के जरूरतमंदों को खून, प्लाज्मा के साथ आर्थिक मदद भी पहुंचा रहा है। नवा रायपुर के बालकों अस्पताल में भर्ती अवंति विहार के कांतिराज बिसेन की अचानक तबियत बिगड़ने के कारण प्लाज्मा की जरूरत पड़ी तब उनके स्वजनों ने पुलिस परिवार को याद किया। परिवार के परमवीर सिंह ने अस्पताल जाकर प्लाज्मा दान करके कांतिराज बिसेन की जान बचाई।

इसी तरह रिटायर्ड हवलदार को निजी अस्पताल में बेड़ दिलवाने के साथ दो अन्य मरीजों को दस-दस दिन की दवाई देकर पुलिस परिवार ने मानवता की मिसाल पेश की। कोरोना महामारी के इस संकट में जिले में लाकडाउन के दौरान लोग घरों में कैद है। ऐसे हालात में गरीब तबका परेशान और बेहाल है। स्वास्थ्य सुविधा, दवाई के साथ जरूरी सामान का संकट पैदा हो गया है। ऐसे जरूरतमंद गरीब, कमजोर तबके के लिए पुलिस परिवार सहारा बनकर सामने आ रहा है।

सिविल लाइन पुलिस थाना प्रभारी आरके मिश्रा ने बताया कि अवंती विहार निवासी कांतिराज बिसने को कुछ दिन पहले नवा रायपुर के बालकों अस्पताल में भर्ती कराया गया था। अचानक तबियत बिगड़ने की वजह से प्लाज्मा की जरूरत पड़ी। इसकी जानकारी मिलने पर पुलिस परिवार के हेड कांस्टेबल परमानंद सिंह से संपर्क कर प्लाज्मा दिलाने को कहा तो वे तत्काल अपने बेटे परमवीर सिंह को अस्पताल जाने को कहा।

परमवीर ने बालकों अस्पताल जाकर कांतिराज बिसेन को प्लाज्मा देकर उन्हे नया जीवन दिया। इसी तरह संतोषीनगर, कृष्णानगर निवासी रिटायर्ड हवलदार की तबियत बिगड़ने पकिसी अस्पताल में बेड नहीं मिल रही थी। जानकारी मिलने पर पुलिस परिवर ने ओम हॉस्पिटल में बेड की व्यवस्था कराई। वहीं दो गरीब परिवारों को दस-दस दिन की दवाइयां भी उपलब्ध कराई गई हैं।

Posted By: Shashank.bajpai

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags