रायपुर (राज्य ब्यूरो)। छत्‍तीसगढ़ प्रदेश की बिजली वितरण कंपनी में परिचारक (लाइन) के तीन हजार पदों पर होने वाली भर्ती के लिए 18 जनवरी से शारीरिक दक्षता परीक्षा प्रस्तावित थी, लेकिन प्रदेश में बढ़ते कोरोना संक्रमण के मामलों को देखते हुए यह परीक्षा स्थगित कर दी गई है। कंपनी के कार्यपालक निदेशक (मानव संसाधन) मनोज खरे ने बताया कि तीन हजार पदों पर भर्ती के लिए अंबिकापुर और जगदलपुर क्षेत्र में 28 जनवरी से, रायपुर, बिलासपुर, रायगढ़, दुर्ग और राजनांदगांव में 18 जनवरी से दस्तावेजों का सत्यापन कराने के साथ ही शारीरिक दक्षता परीक्षा आयोजित की जाना थी। छत्‍तीसगढ़ प्रदेश में कोविड-19 के संक्रमण के तीव्र प्रसार को देखते हुए इसे स्थगित करने का निर्णय लिया गया है। शारीरिक दक्षता परीक्षाके लिए नई तारीखों की घोषणा बाद में की जाएगी। इन पदों के लिए एक लाख से अधिक आवेदन आए थे, जिनमें से नौ हजार उम्मीदवारों को दस्तावेज सत्यापन व शारीरिक दक्षता परीक्षा के लिए बुलाया गया था।

विधायक डा. प्रीतम बने सीजीएमएसी के अध्यक्ष

छत्‍तीसगढ़ सरकार ने लुंड्रा विधायक डा. प्रीतम राम तिर्की को छत्तीसगढ़ मेडिकल सर्विसेस कारपोरेशन (सीजीएमएससी) का अध्यक्ष नियुक्त किया है। इसके साथ ही साथ ही दो और विधायकों डा. विनय जायसवाल व डा. केके ध्रुव व नीलाभ दुबे को संचालक नियुक्त किया गया है।

अभी तक स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव सीजीएमएससी के पदेय अध्यक्ष रहते थे। इस आदेश के बाद प्रमुख सचिव केवल संचालक रहेंगे। संचालक मंडल के बाकी सदस्य यथावत बने रहेंगे। बता दें कि सीजीएमएससी में राजनीतिक नियुक्ति के लिए सरकार ने विधानसभा में कानून में संश्ाोधन किया है।

Posted By: Kadir Khan

NaiDunia Local
NaiDunia Local