रायपुर। विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष नारायण चंदेल के बेटे पलाश चंदेल के खिलाफ आदिवासी शिक्षका द्वारा महिला थाने में लिखाई गई दुष्कर्म की रिपोर्ट की फाइल जांजगीर-चांपा पुलिस के हवाले कर दी गई है। आगे की जांच अब वहीं की पुलिस करेगी।

पुलिस अधिकारियों का कहना है कि केस दर्ज होते ही आरोपित पलाश भूमिगत हो गया है। उसकी गिरफ्तारी के लिए एसडीओपी चंद्रशेखर शर्मा के नेतृत्व में टीम लगी है। तीन जांच टीमें विवेचना कर रही हैं। फोरेंसिक विशेषज्ञ भी ठोस सुबूत एकत्र कर रहे हैं। पुलिस पर आरोपित की गिरफ्तारी का काफी दबाव है। क्योंकि मामले ने राजनीतिक रंग ले लिया है। कांग्रेस इस मामले को लेकर लगातार भाजपा पर हमले कर रही है।

जांजगीर-चांपा जिले के एसपी विजय अग्रवाल ने नईदुनिया को फोन पर बताया कि नेता विधायक नारायण चंदेल के बेटे पलाश चंदेल के खिलाफ रायपुर के महिला थाने में दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। केस की फाइल रायपुर से जांजगीर आ चुकी है। विवेचना की जा रही है। पुलिस ने मामले की जांच के लिए तीन टीमों का गठन किया है। एफएसएल विशेषज्ञ की भी मदद ली जा रही है।

देर शाम घर में दबिश, नहीं मिला आरोपित

पलाश की तलाश में रविवार देर शाम को जांजगीर पुलिस टीम ने नैला स्थित चंदेल निवास में दबिश दी। पलाश वहां नहीं मिला। कुछ टीमों को उसकी तलाश में आसपास के जिलों में रवाना किया गया है।

यह है मामला

पलाश चंदेल के खिलाफ सरगुजा की एक शिक्षिका ने शादी का झांसा देकर दुष्कर्म की शिकायत महिला पुलिस थाना रायपुर में दर्ज कराई है। इस केस की डायरी मिलने पर जांजगीर पुलिस थाने में धारा 376, 376(2)एन के तहत केस दर्ज किया गया। आरोपित गिरफ्तारी के लिए संभावित स्थानों में लगातार दबिश दी जा रही है।

Posted By: Ashish Kumar Gupta

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close