रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। बताइए! हाइवे पेट्रोलिंग से हमें क्या-क्या लाभ मिल रहा है? एसएसपी प्रशांत अग्रवाल ने अधीनस्थों से ये प्रश्न पूछा। अधिकारियों ने उन्हें विस्तार से जानकारी दी। उन्हें बताया गया कि यातायात को व्यवस्थित करने के साथ पेट्रोलिंग टीम ने कैसे 69 घायलों की जान बचाई। सड़कों पर बैठे तीन हजार से अधिक पशुओं को हटाया गया। तेज गति से दौड़ रहे 127 वाहन चालकों के विरुद्ध कार्रवाई की गई।

एसएसपी प्रशांत अग्रवाल ने सिविल लाइन स्थित सी-4 सभागार में हाइवे पेट्रोलिंग वाहन में तैनात अधिकारियों-कर्मचारियों की बैठक ली। बैठक में कप्तान ने हाइवे पेट्रोलिंग वाहन के कर्मचारियों के कामकाज की समीक्षा कर इसके संचालन से होने वाले लाभ के बारे में जानकारी ली। बैठक में मुख्य रुप से हाइवे पर नो पार्किंग में खड़े होने वाले वाहन, मवेशी सड़क दुर्घटनाओं के लिए सबसे प्रमुख कारण के रूप में सामने आए।

इस पर कप्तान ने अधिकारी-कर्मचारियों को हाइवे पर लगातार पेट्रोलिंग करते हुए नो पार्किंग में खड़ी वाहनों के साथ ही मवेशियों को भी रोड से हटाने को कहा। उन्होंने कर्मचारियों को हाइवे पर सुगम यातायात व्यवस्था बनाने के साथ ही दुर्घटनाओं को रोकने और घायलों का तत्काल उपचार कराने लगातार पेट्रोलिंग करने के निर्देश दिए।

इस बैठक में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक यातायात एमआर मंडावी, उप पुलिस अधीक्षक यातायात सतीश ठाकुर भी शामिल थे। उन्होंने अब तक हाइवे पेट्रोलिंग द्वारा किए गए कार्यों के संबंध में जानकारी देते हुए हाइवे पेट्रोलिंग वाहन में आने वाली समस्याओं से अवगत कराया।

सड़क हादसे में घायल 69 की बचाई जान

डीएसपी ट्रैफिक सतीश ठाकुर ने बताया कि राजधानी रायपुर में वर्ष-2017 से चार हाइवे पेट्रोलिंग वाहन संचालित किए जा रहे है। ये वाहन लगातार 24 घंटे हाइवे पर उपस्थित रहकर अपनी सेवाएं दे रहे है। जनवरी-2022 से अब तक अवैध पार्किंग में खड़े होने वाले 2818 वाहनों को हटाया गया है।

इसी तरह सड़क पर बैठे 3,000 से अधिक मवेशियों को हटाया गया। 80 से अधिक बार जाम की स्थिति निर्मित होने पर उसे व्यवस्थित कर यातायात बहाल कराया गया। सड़क दुर्घटना के 65 प्रकरणों में घायल 69 व्यक्तियों को अस्पताल पहुंचा कर उनकी जान बचाई गई। इसी तरह हाइवे में तेज गति से चलने वाले 127 वाहन चालकों के खिलाफ मोटर यान अधिनियम के तहत कार्रवाई भी की गई।

Posted By: Ashish Kumar Gupta

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close