Politics of Chhattisgarh : रायपुर। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल शनिवार को अचानक दिल्ली रवाना हो रहे हैं। इस वजह से भूपेश कैबिनेट की बैठक स्थगित हो गई है। गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ में तीन दिन से चल रहे आयकर छापामारी की कार्रवाई पर राजनीति गरमा गई है। सत्ता पक्ष-विपक्ष के बीच वार-पलटवार चल रहा है। इस बीच कांग्रेस का प्रदर्शन भी राजधानी रायपुर में हो रहा है। इसके पहले मंत्रीमंडल की बैठक कोरबा के पर्यटक स्थल सतरेंगा में होना सुनिश्चित किया गया था।

बाद में मुख्यमंत्री की व्यस्तता की बात कहकर बैठक मुख्यमंत्री निवास में आहूत की गई। इस बीच यह खबर आ रही है कि केंद्रीय आयकर टीम की छापामार कार्रवाई से उत्पन्न् हालात से आलाकमान को अवगत कराने मुख्यमंत्री अचानक दिल्ली रवाना हो गए हैं। मुख्यमंत्री बघेल 29 फरवरी को गिरौदपुरी मेले में भी शामिल होने वाले थे। मैनपाट महोत्सव शुभारंभ अवसर पर मुख्य अतिथि थे। इस वजह से कैबिनेट की बैठक रायपुर में ही आयोजित की गई है।

आयकर छापा को अवैधानिक घोषित करने की तैयारी

सूत्रों के अनुसार कांग्रेस, आयकर विभाग की पूरी कार्रवाई को अवैधानिक घोषित करने की तैयारी में है। इसको लेकर शुक्रवार देर शाम ही मुख्यमंत्री बघेल ने स्पष्ट कर दिया था और राज्यपाल अनुसूइया उईके से मुलाकात करने के बाद मुख्यमंत्री ने इस कार्रवाई को असंवैधानिक बताते हुए राज्य शासन के अधिकार क्षेत्र में हस्तक्षेप बताया। साथ ही साफ तौर पर कहा कि इसके खिलाफ लीगल एक्शन लिया जाएगा।

सीएम ने किया आक्रामक ट्वीट

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और प्रदेश कांग्रेस ने छापों की कार्रवाई के विरोध में एक के बाद एक कई ट्वीट कर प्रधानमंत्री मोदी और गृहमंत्री अमित शाह पर निशाना साधा है। मुख्यमंत्री ने ट्वीट किया है-

सुने ले मोदी सरकार !

ये कैंचियाँ हमें उड़ने से खाक रोकेंगी

कि हम परों से नहीं हौसलों से उड़ते हैं ।

Posted By: Anandram Sahu