रायपुर। बैंक की तरह डाक विभाग भी इन दिनों अपने ग्राहकों के लिए आकर्षक बचत योजना लेकर आया हुआ है और विभिन्न ब्याज दरों के साथ बचत योजना पेश कर रहा है। इनमें तिमाही आधार पर बदलाव किया जाता है। इंडिया पोस्ट की तरफ से पेश की जाने वाली एक बचत योजना टाइम डिपॉजिट या फिक्स्ड डिपॉजिट अकाउंट है।

टाइम डिपॉजिट अकाउंट में ब्याज दर सालाना देय है, लेकिन इसकी गणना तिमाही आधार पर की जाती है। डाक विभाग की यह फिक्सड डिपॉजिट स्कीम काफी फायदेमंद है। फिक्स्ड डिपॉजिट अकाउंट के बारे में जानने लायक ये पांच प्रमुख बातें

अकाउंट ओपनिंग

पोस्ट ऑफिस फिक्स्ड डिपॉजिट अकाउंट कोई भी व्यक्ति चेक या नकद के जरिए खोल सकता है। सरकारी अकाउंट में जब चेक की प्राप्ति की तारीख होगी, वही अकाउंट खोलने की तारीख होगी।

अमाउंट

अकाउंट खोलने के लिए आवश्यक न्यूनतम राशि 200 रुपये है, जो कि इसी की गुणकों में होनी चाहिए। भारतीय डाक के अनुसार इसकी कोई भी अधिकतम सीमा नहीं है।

ब्याज दर और अवधि

पोस्ट ऑफिस फिक्स्ड डिपॉजिट अकाउंट की अवधि एक से पांच वर्षों की है। इस अकाउंट में सात फीसद से 7.8 फीसद के बीच ब्याज दर से ग्रोथ मिलती है। इंडिया पोस्ट की वेबसाइट के अनुसार ब्याज दरें अवधि के हिसाब से इस प्रकार हैं।

इनकम टैक्स बेनिफिट

पांच साल की अवधि वाले फिक्स्ड डिपॉजिट अकाउंट में जमा करने पर आयकर अधिनियम, 1961 की धारा 80 सी के तहत इनकम टैक्स में छूट के लिए दावा किया जा सकता है।

अन्य सुविधाएं

अकाउंट को एक नाबालिग के नाम से खोला जा सकता है। दो वयस्कों की तरफ से ज्वाइंट अकाउंट को तौर पर खोला जा सकता है। इसी के साथ इस अकाउंट में खाता खोलते समय और उसके बाद में नॉमिनेशन की सुविधा भी मिलती है।

अवधि ब्याज

1 साल फिक्स्ड डिपॉजिट 7.00%

2 साल फिक्स्ड डिपॉजिट 7.00%

3 साल फिक्स्ड डिपॉजिट 7.00%

5 साल फिक्स्ड डिपॉजिट 7.80%

Posted By: Sandeep Chourey