रायपुर। Harassment: रेलवे में ट्रैक मेंटेनर के रूप में कार्य कर रही गर्भवती महिला नागमणी साहू पंडित को कार्य-स्थल पर जेई द्वारा प्रताड़ित करने के आरोप से हडकंप मचा मचा है। महिला ने रायपुर रेल प्रबंधक मंडल में कार्य-स्थल पर प्रताड़ित करने की शिकायत दर्ज कराई है। महिला ट्रैक मेंटनर के रूप में 20 जनवरी, 2014 से आरएसडी स्टोर में डीटीएम 45 के अनुभाग अभियंता अभपुर के अधीन रायपुर में कार्यरत है।

शिकायत पत्र में महिला ने स्वयं को गर्भवती बताते हुए हल्का काम करने की मांग की, लेकिन विभाग के कार्यरत जेई रामराज उनकी मांग को नजर अंदाज करते हुए अन्य सहयोगी ट्रैक महिलाओं की तरह कार्य करने का दबाव बना रहे हैं। इस परेशानी को लेकर महिला वरिष्ठ अधिकारियों से मिली, लेकिन उसकी मांगों को अनसुना किया गया।

पीडब्ल्यूआइ की बहू की नहीं लगती अनुपस्थिति

शिकायत पत्र में नागमणी साहू ने लिखा है कि पांच मार्च को आरएसडी स्टोर में काम कर रही थी तो रामराज सर आए और चिल्लाने लगे, जबकि उन्हें पता है कि मै गर्भवती हूं। इसके बाद भी वह मुझे मानसिक और शारीरिक रूप से परेशान कर रहे हैं। आरएसडी स्टोर में पांच महिलाएं ट्रैक मेंटेनर के पद पर कार्य रह रही हैं। अन्य महिलाओं के आने-जाने की जांच नहीं होती है। इसी तरह से सहयोगी महिला लक्ष्मी, जिनके ससुर रेलवे में पीडब्ल्यूआइ के पद पर कार्यरत हैं, जो अक्सर काम पर नहीं आती हैं, उन्हें अनुपस्थित नहीं किया जाता है।

वर्जन

महिला कर्मी की शिकायत मेरे पास तो नहीं आई है। आपके माध्यम से जानकारी मिली है, जांच करवाती हूं

- डा.दर्शीनीता बी. आहूवालिया, अध्यक्ष, विशाखा कमेटी, रेलवे मंडल, रायपुर

Posted By: Shashank.bajpai

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags