रायपुर। पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय की सेमेस्टर परीक्षाओं में फार्म भरते समय परीक्षार्थियों को कई तरह की दिक्कतें उठानी पड़ रही है। छात्रों के मुताबिक ऑनलाइन आवेदन करते समय च्वाइस बेस्ड क्रेडिट सिस्टम (सीबीसीएस) के विषय डिस्प्ले नहीं हो रहे हैं। ऐसे में परीक्षा फार्म सबमिट करना मुश्किल हो रहा है। परीक्षा फार्म भरने के दौरान नेवर्किंग की भी दिक्कत है, कई परीक्षार्थियों ने आइडी बनाने में दिक्कत होने की बात कही। खासकर स्नातकोत्तर परीक्षाओं के सेमेस्टर फार्म भरने में छात्र-छात्राओं को दिक्कत उठानी पड़ रही है। गौरतलब है कि रविवि ने कॉलेजों और अध्ययनशालाओं के लिए सत्र 2019-20 सेमेस्टर परीक्षा दिसंबर-जनवरी के लिए आवेदन मंगाए हैं। एमए, एमएससी, एमकॉम, एमएससी होम साइंस, बीएड, एमएड, बीपीएड आदि परीक्षाओं के लिए आवेदन मंगाए गए हैं।

रविवि की वेबसाइट पर आनलाइन आवेदन करते समय छात्र-छात्राओं को भारी दिक्कत उठानी पड़ रही है। गौरतलब है कि रविवि में अभी तक स्नातकोत्तर एमए, एमकॉम, एमएससी की कक्षाओं में सीबीसीएस लागू है। इसके तहत यहां गणित संकाय के विद्यार्थियों को अपने मूल विषयों के साथ कला, कॉमर्स, होम साइंस अन्य के विषयों को पढ़ने का अवसर मिलता है। इसी तरह कला संकाय एवं अन्य संकाय के विद्यार्थियों को भी मनचाहा कोर्स चुनने का अवसर मिलता है।

20 नवंबर आखिरी तारीख, फिर लगेगा विलंब शुल्क : रविवि ने सेमेस्टर परीक्षा के लिए ऑनलाइन आवेदन 20 नवंबर तक मंगए हैं। इसके बाद 21 से 26 नवंबर तक 100 रुपये विलंब शुल्क के साथ आवेदन किया जा सकेगा।

बीकॉम पूरक परीक्षा में आधे फेल : रविवि ने बीकॉम प्रथम वर्ष के पूरक परीक्षा का परिणाम जारी कर दिया है। परीक्षा में शामिल 1749 परीक्षार्थियों में सिर्फ 886 उत्तीर्ण हुए हैं। रिजल्ट 50.66 प्रतिशत रहा। बाकी परीक्षार्थियों में 861 को फिर पूरक परीक्षा देने की पात्रता दे दी गई है। रविवि ने बीएड के पुनर्मूल्यांकन और पुनर्गणना के परिणाम भी जारी कर दिया है। इसमें किसी भी परीक्षार्थी के अंक में विशेष सुधार नहीं हुआ है।

फार्म भरने में दिक्कत होगी तो दूर करेंगे

च्वाइस सब्जेक्ट नहीं दिख रहे हैं तो इसकी शिकायत दूर करेंगे। परीक्षा फार्म भरने में कोई दिक्कत न हो इसके लिए टीम काम कर रही है। - डॉ. गिरीशकांत पाण्डेय, कुलसचिव, पं. रविवि

Posted By: Nai Dunia News Network