रायगढ़। जिले के आदिवासी ग्राम पहाड़पाली में एक पिता ने अपने शराबी बेटे की इसलिए हत्या कर दी क्योंकि वह शराब के नशे में अपनी मां से मारपीट कर रहा था। मिली जानकारी के अनुसार लैलूंगा थाना क्षेत्र के आदिवासी संरक्षित ग्राम में यह वारदात हुई है।

मिली जानकारी के अनुसार शराबी पुत्र द्वारा अपनी मां से पैसे की मांग को लेकर गाली गलौज, मारपीट करने लगा, इसे देख पिता ने पुत्र को काफी समझाया परंतु शराबी पुत्र पर शराब का नशा इस कदर हावी हो गया कि उसने पिता से भी विवाद शुरू कर दिया।

शराबी बेटे की हरकत पिता को इस कदर नागवार गुजरी कि उसने टांगी से ताबड़तोड़ हमला कर अपने बेटे को मौत के घाट उतार दिया। पुत्र को मौत के घाट उतारने के बाद हत्यारे पिता ने दूसरे बेटे के साथ मिलकर लाश को गांव के ही तालाब में फेंक दिया इसकी भनक लगने के बाद क्षेत्र में हड़कंप मच गया। स्थानीय लोगों ने कोटवार के माध्यम से लैलूंगा पुलिस को सूचना दी।

मिली जानकारी के मुताबिक छबीलाल माझी पिता घुनेश्वर माझी उम्र लगभग 34 वर्ष शराबी प्रवृत्ति का था, जो शराब के नशे में माता-पिता और गांव वालों के साथ अक्सर वाद विवाद करता रहा था, इस बीच गुरुवार सुबह लगभग 10 बजे छविलाल शराब के नशे में मदहोश घर पहुंच गया, जहां नशे में अपनी मां से मारपीट करते हुए तेंदूपत्ता में मिले रकम की मांग करने लगा। इस पर मृतक की मां ने पैसे देने से इनकार कर दिया।

इससे छबिलाल का गुस्सा सातवें आसमान पर चल गया, देखते देखते घर में मारपीट करने लगा, जिसे देख छबिलाल के पिता घुनेश्वर माझी ने अपने पुत्र को समझाने लगा। लेकिन विवाद बढ़ने पर पिता ने पुत्र की टांगी मारकर हत्या कर दी। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और जांच शुरू कर दी है।

- पैसे की विवाद पर मृतक छबिलाल घर मे अपनी माँ से लड़ रहा था, जिस पर पिता ने उसे समझाया परंतु वह नशे में सभी से लड़ने लगा,इस पर आरोपी घुनेश्वर माझी ने टांगी से वार कर दिया, जिससे उसकी मौत हो गई। आरोपी ने अपने दूसरे बेटे के साथ मिलकर लाश को तालाब में फेंक दिया था। दोनों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा रहा है। - बोनिफास एक्का, निरीक्षक, थाना लैलूंगा