रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। हाउसिंग बोर्ड में स्थाई नौकरी लगाने के नाम पर लाखों की ठगी के आरोपित को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपित ने चार लाख रुपये लिए हैं। सिविल लाइन थाने में विनय लाल यादव ने धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज करवाई है। विनय हाउसिंग बोर्ड प्लेसमेंट के माध्यम से नौकरी करता है। मई 2017 में फैजल खान को हाउसिंग बोर्ड मे स्थाई नौकरी लगाने के नाम पर चार लाख रुपये दिए थे। न तो नौकरी लगाने एवं रकम वापस नहीं कर धोखाधड़ी की गई। विनय की मुलाकात पांच साल पहले फैजल खान से हुई थी।

दोनों की आपस में जान-पहचान हो गई। फैजल खान ने हाउसिंग बोर्ड में में बड़े अधिकारियों से अच्छी जान पहचान होने की बात कहकर स्थाई नौकरी लगाने की बात की। इसके बदले में चार लाख रुपये ले लिए। उसके बाद लगातार फैजल खान द्वारा आश्वासन दिया जाने लगा।चार साल से ज्यादा समय बीतने के बाद भी नाैकरी नहीं लगने पर फैजल खान से बार-बार पैसा वापस करने को कहा गया। इस बीच फैजल खान ने 25 हजार रुपये का चेक दिया। खाते में पैसे नहीं होने की वजह से बाउंस हो गया। इसके अलावा विनय ने बताया कि फैजल द्वारा भूखन नारंग से भी शराब दुकान में सुपरवाइजर की नौकरी लगाने के लिए 50 हजार रुपये ले लिए गए। लेकिन नाैकरी नहीं लगवाई गई।

शुष्क दिवस के पहले 48 पेटी अवैध शराब के साथ दो आरोपित गिरफ्तार

शुष्क दिवस 26 जनवरी को शराब के अवैध कारोबार करने के पहले रायपुर के डीडी नगर क्षेत्र में शराब का बड़ा जखीरा बरामद हुआ है। पुलिस की छापेमारी में 48 पेटी अंग्रेजी शराब जब्त की गई है।पुलिस ने दो संदेहियों में कुलेश्वर यादव और संजय महतो को पकड़ा।

प्रारंभिक पूछताछ के बाद कुछ और ठिकानों पर भी स्टाक खपाने की जानकारी पुलिस को मिली है। आरोपित टाटाएस वाहन में शराब भरकर उसे शहर लाए जाने की सूचना पुलिस को मिली। रिंग रोड के रास्ते और जिला बार्डर अम्लेश्वर दोनों तरफ पुलिस ने घेराबंदी के लिए जवान तैनात किए।

मुख्य दो मार्गों में संदिग्ध वाहन पर नजरें जमाई। टाटाएस वाहन को रूकवाकर उसमें तलाशी ली, जिसमें शराब की 48 पेटी शराब बरामद हुई। रायपुरा चौक के पास संदिग्ध वाहन चालक के आने के बाद पुलिस टीम ने ड्राइवर को रोका। इसके बाद उसके पास रखे शराब के स्टाक की जब्ती बनाई। शराब कुम्हारी के रास्ते से रायपुर की तरफ रवाना किया गया था।

Posted By: Kadir Khan

NaiDunia Local
NaiDunia Local