रायपुर। चार-पांच दिन पहले इंडस्ट्रियल एरिया के एक थाने में सफेद कुर्ते का पावर दिखाने की कोशिश कर रहे नेताजी की हेकड़ी सब इंस्पेक्टर ने निकाल दी। नेताजी को आखिरकार माफी मांगनी पड़ी। हुआ यूं कि ट्रैफिक जवान ने ट्रक चालक को नियम तोड़ते हुए पकड़ा और उसे ट्रक सहित थाने पहुंचा दिया।

जानकारी मिलते ही नेताजी हस्तक्षेप करने के लिए थाने पहुंच गए। उन्होंने जवान को जमकर खरी-खोटी सुनाई। इतना ही नहीं, अपनी ऊंची पहुंच की धौंस दिखाकर जवान की वर्दी उतरवाने तक की धमकी दे डाली। इससे जवान बुरी तरह डर गया, लेकिन तभी वहां सब इंस्पेक्टर आ गए।

नेताजी उन पर भी दबाव बनाने की कोशिश करने लगे। सब इंस्पेक्टर ने थोड़ी देर तो उनकी बात सुनी। समझाया भी। लेकिन जब बात नहीं बनी तो उन्होंने नेताजी के वरिष्ठों को उनकी करतूत बता दी। इस पर वरिष्ठों के फोन आ गए और नेताजी माफी मांगकर निकल लिए।

कहीं खुशी, कहीं गम

राजधानी में चार से पांच थाना प्रभारियों के बदले जाने की चर्चा इन दिनों जोरों पर है। इससे कुछ थाना प्रभारी खुश हैं तो कुछ के चेहरे पर गम साफ दिखाई दे रहा है। दो सबसे बड़े और महंगे थानदारों के बदले जाने की भी खबर है। पुलिस सूत्रों की मानें तो कुछ थाना प्रभारियों के काम से नाखुशबड़े साहब उन्हें लूपलाइन में भेजने की तैयारी कर रहे हैं। कौन कहां का पदभार संभालेगा, इसकी चर्चा चल रही है।

कुछ ऐसे हैं, जो हाल ही में थाना संभाले थे। अब उनके जाने का समय आ गया है। जमने में समय लगा, तब तक जाने की बारी आ गई। अब देखना है कि थानों में पदस्थ सिंघमों के लूपलाइन होते ही कौन नया सिंघम प्रभार संभालने आएगा? हालांकि जिन थानों में बदलाव की चर्चा है, वहां के थाना प्रभारियों ने हाल ही में हुए चुनाव और आंदोलन को आसानी से निपटा दिया।

आपदा को बनाया अवसर

नवाचार और हाईप्रोफाइल मामलों की जांच करने के लिए मशहूर श्ाहर के एक पुलिस अधिकारी ने आपदा को अवसर में बदलकर राजद्रोह के मामले में फंसे एक बड़े अफसर को गिरफ्तार किया है। बालीवुड अभिनेता सलमान खान के फैन इस अधिकारी ने इसके लिए झूठ का सहारा भी लिया। हुआ यूं कि राजद्रोह के मामले में पुलिस से आंखमिचौली कर रहे अफसर को पकड़ने में पुलिस अधिकारियों को पसीना छूट रहा था।

ऐसे में खुद को स्मार्ट समझने वाले इस अफसर को पकड़ने के लिए इस पुलिस अधिकारी ने तोड़ निकाला। मीडिया में खुद के और टीम के कुछ साथियों के कोरोना संक्रमित होने का हल्ला उड़ा दिया। यह बात जब फरार चल रहे अफसर तक पहुंची तो वह बेखौफ होकर दूसरे राज्यों में घूमने लगा। इस पर पुलिस अधिकारी ने उनकी लोकेशन देखी और गिरफ्तार कर लिया। इस तरह कोरोना का खौफ इस अधिकारी के लिए अवसर बन गया।

...तो क्या करेगा काजी

शहर के एक थाने में हाल ही में दो परिवार के लोगों ने जमकर हंगामा किया। विवाद की वजह प्रेम विवाह था। लड़की की शादी कहीं और तय कर दी गई थी, मगर मौका देखकर वह अपने प्रेमी के साथ शहर से बाहर चली गई। चिंतित स्वजनों ने थाने में शिकायत दर्ज कराई। अगले दिन शादी रचाकर जोड़ा रायपुर पहुंचा। संरक्षण के लिए उसने थाने में शरण ली। साथ ही अपने बालिग होने और विधिवत शादी करने का प्रमाण भी पेश किया।

मामला थोड़ा हाईप्रोफाइल का था, लेकिन पुलिस ने दोनों को अपने पास बैठाया। गुम होने की रिपोर्ट करने वाले कन्या पक्ष के स्वजन को थाने बुलवाया। कन्या पक्ष वाले लड़की को अपने साथ ले जाना चाहते थे। उधर, वह अपने पति को नहीं छोड़ना चाहती थी। तकरीबन चार घंटे तक चले ड्रामे के बाद आखिरकार परेशान होकर थाना प्रभारी ने कहा, जब मियां-बीवी राजी तो क्या करेगा काजी।

Posted By: Kadir Khan

NaiDunia Local
NaiDunia Local