रायपुर। छत्‍तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में प्रतिबंधित कफ सिरप बेचने वाले आरोपितों को रायपुर पुलिस गिरफ्तार कर उनके खिलाफ लगातार कार्रवाई कर रही है। इसी कड़ी में सोमवार को एंटी क्राइम और साइबर यूनिट की टीम ने दो आरोपितों को कफ सिरप के साथ पकड़ा है। जानकारी के अनुसार टीम को सूचना मिली कि टिकरापारा थाना क्षेत्र के संजय नगर स्थित बकरा मार्केट पास दो व्यक्ति अवैध रूप से प्रतिबंधित नशीली सिरप बिक्री करने की फिराक में है।

इस सूचना पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अपराध अभिषेक माहेश्वरी द्वारा प्रभारी एंटी क्राइम और साइबर यूनिट व थाना प्रभारी टिकरापारा को आरोपितों को प्रतिबंधित नशीली सिरप के साथ रंगे हाथ पकड़ने निर्देशित किया गया। जिस पर एंटी क्राइम और साइबर यूनिट तथा थाना टिकरापारा की संयुक्त टीम द्वारा उक्त स्थान पर जाकर मुखबिर द्वारा बताए हुलिए के व्यक्तियों को चिह्नांकित कर बातचीत करने की कोशिश की गई। इस पर दोनों भागने का प्रयास करने लगे, जिन्हें दौड़कार पकड़ा गया। पूछताछ में व्यक्तियों ने अपना नाम मोहम्‍मद आशीम और असफाक हुसैन निवासी टिकरापारा रायपुर का होना बताया।

टीम के सदस्‍यों को प्रतिबंधित नशीली टेबलेट मिली, उक्त सिरप रखने के संबंध में दोनों से वैध दस्तावेज या कागजात प्रस्तुत करने का कहने पर उनके द्वारा किसी भी प्रकार का कोई वैध दस्तावेज या कागजात प्रस्तुत न कर टीम को लगातार गुमराह करने का प्रयास किया जा रहा था, जिस पर आरोपी मोहम्‍मद आशीम और असफाक हुसैन को गिरफ्तार कर कब्जे से कुल 90 शीशी प्रतिबंधित नशीली कफ सिरप, जिसकी कीमत लगभग 15,000 रुपये आंकी गई है, उसे जब्‍त किया गया। वहीं आरोपितों के खिलाफ मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जा रही है।

गिरफ्तार आरोपितों में मोहम्‍मद आशीम पुत्र मोहम्‍मद सफीक (34) निवासी शिवनगर मठपुरैना और असफाक हुसैन पुत्र इकबाल हुसैन (33) निवासी संजयनगर आरडीए प्लाट शामिल हैं। वहीं इन दोनों आरोपितों को पकड़ने और कार्यवाही में एंटी क्राइम और साइबर यूनिट से प्रधान आरक्षक कुलदीप द्विवेदी, अनिल पाण्डेय, अनुप मिश्रा, आरक्षक उपेन्द्र यादव, संतोष सिन्हा, प्रदीप साहू, आलम बेग और थाना टिकरापारा से उपनिरीक्षक सुशील कर की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

Posted By: Kadir Khan

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close