रायपुर। Air Travel: कोरोना काल में भी हवाई यात्रियों की आवाजाही में रायपुर ने देश में दूसरा स्थान प्राप्त किया है। बताया जा रहा है कि देशभर के 58 घरेलू विमानतलों में से केवल दो विमानतल में ही 10 लाख से अधिक यात्रियों की आवाजाही हुई। इनमें रांची विमानतल देश में पहले स्थान पर रहा। विमानन अधिकारियों से मिली जानकारी के अनुसार, वित्तीय वर्ष 2020-21 में रांची विमानतल में 1219643 हवाई यात्रियों का आवागमन रहा।

इसी प्रकार रायपुर विमानतल में 10 लाख 41 हजार 070 हवाई यात्रियों की आवाजाही रही। जम्मू विमानल तीसरे स्थान पर, देहरादून चौथे स्थान पर और अगरतला विमानतल पांचवे स्थान पर रहा। अब कोरोना संक्रमण की रफ्तार थोड़ी कम होते ही व नियमों में तोड़ी राहत मिलने से हवाई यात्रियों की संख्या फिर से बढ़ने लगी है। साथ ही उड़ानों की आवाजाही भी बढ़ने लगी है।

मार्च में सर्वाधिक यात्री

स्वामी विवेकानंद विमानतल में वित्तीय वर्ष 2020-21 में सर्वाधिक हवाई यात्रियों की आवाजाही मार्च 2021 में रही। मार्च में कुल 1,45,358 हवाई यात्रियों की आवाजाही हुई। बीते साल की तुलना में मार्च में हवाई यात्रियों की संख्या में 18.6 फीसद की बढ़ोतरी हुई है।

वित्तीय वर्ष 2019-20 की तुलना में आधे रहे यात्री

वित्तीय वर्ष 2020-21 में हवाई यात्रियों की संख्या घटकर आधी रह गई। जानकारी के अनुसार वित्तीय वर्ष 2019-20 में रायपुर विमानतल से 21 लाख 19 हजार 417 हवाई यात्रियों की आवाजाही रही,जो वित्तीय वर्ष 2020-21 में घटकर 10 लाख 41 हजार हजार 070 रही। इस प्रकार हवाई यात्रियों की संख्या में काफी कमी आई है। देशभर में कोरोना काल में हवाई यात्रियों की संख्या में 61.7 फीसद की कमी आई है।

Posted By: Shashank.bajpai

NaiDunia Local
NaiDunia Local