रायपुर(ब्यूरो)। प्रदेश के कन्या आश्रमों व छात्रावासों में तीन वर्षों में शारीरिक शोषण व छेड़छाड़ के दस मामले सामने आए हैं। आदिम जाति विकास मंत्री केदार कश्यप ने गुरुवार को विधानसभा में कांग्रेस विधायक दीपक बैज के प्रश्नों के उत्तर में यह जानकारी दी। आदिम जाति विकास मंत्री ने बताया कि वर्ष 2011-12 में जशपुर के मनोरा विकास खंड के एक आम की छात्रा के साथ बलात्कार की घटना सामने आई है। इस प्रकरण में आरोपी अधीक्षिका के पति व सह आरोपी अधीक्षिका को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया है। अधीक्षिका व सहायक शिक्षिका पंचायत को निलंबित किया गया है। इस तरह गरियाबंद जिले व बलरामपुर जिले में एक-एक प्रकरण सामने आए हैं। वर्ष 2012-13 में कोरिया, बालोद व कांकेर जिले के कन्या आम व छात्रावास में बालिकाओं से दुष्कर्म, शारीरिक शोषण व छेड़छाड़ संबंधी प्रकरण दर्ज किए गए हैं। 2013-14 में महासमुंद, बीजापुर, जांजगीर-चांपा व नारायणपुर जिले में कन्या आम व बालिका छात्रावासों में दुष्कर्म, शारीरिक शोषण व छेड़छाड़ के प्रकरण दर्ज हुए हैं। इन सभी प्रकरणों में कार्रवाई की गई है।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close