रायपुर/सिलयारी। विधानसभा थानाक्षेत्र के तोड़गांव के पास मंगलवार दोपहर बंद रेलवे फाटक के नीचे से पार हो रहे दो बाइक सवार युवक एक्सप्रेस ट्रेन की चपेट में आ गए। ट्रेन की जोरदार टक्कर से दोनों युवकों की घटनास्थल पर ही मौत हो गई।

पुलिस के अनुसार मंगलवार को घटना उस वक्त घटी, जब दोपहर सवा बारह बजे कानपुर से दुर्ग की ओर जा रही बोमता एक्सप्रेस सुपरफास्ट ट्रेन गुजर रही थी। इसी दौरान तोड़गांव के बंद फाटक के नीचे से जान जोखिम में डालकर दो युवक बाइक समेत पार हो रहे थे, तभी एक्सप्रेस ट्रेन की चपेट में दोनों आ गए। ट्रेन से टकराकर दोनों के शरीर के चिथड़े और सीडी डिलक्स बाइक के परखच्चे उड़ गए। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक सौ मीटर तक ट्रेन के साथ दोनों युवक घिसटते चले गए थे। घटना की जानकारी मिलते ही आसपास के गांव के सैकड़ों लोगों की घटना स्थल पर भारी भीड़ लग गई। इस हादसे में लाश के टुकड़ों में बंट जाने के कारण उनकी शिनाख्त करना मुश्किल हो गया था, पर बाइक को देखकर मृतकों की पहचान विधानसभा थानाक्षेत्र के तोड़गांव निवासी सोहन निषाद पिता प्राण निषाद (36), घसिया निषाद पिता सोमनाथ निषाद(40) के रूप में की गई। जानकारी मिलते ही विधानसभा पुलिस भी मौके पर पहुंची। शव को उनके परिजनों को सौंप दिया गया है।

रास्ते में मिला और बैठा लिया

पुलिस ने बताया कि हादसे का शिकार सोहनलाल बाइक से कहीं जा रहा था, रास्ते में उसे घषिया निषाद मिल गया, जिसे सोहन ने बाइक में बैठा लिया। तोड़गांव रेलवे फाटक पर मालगाड़ी गुजरने के बाद जल्दीबाजी में दूसरी लाइन पर आ रही एक्सप्रेस ट्रेन को नहीं देख पाए और बाइक समेत बंद फाटक के नीचे से पार होते समय ट्रेन की चपेट में आ गए।

दर्जनों क्रॉसिंग खतरनाक

जिले में दर्जनों ऐसे मानव रहित रेल्वे क्रॉसिंग हैं, जहां रोज सैकड़ों लोग अपनी जान को खतरे में डालकर ऐसे ही पटरी पार करते देखे जा सकते हैं। आए दिन इसी के कारण हादसे भी हो रहे हैं। रेल मंडल प्रवक्ता रतन बसाक का कहना है कि समपार फाटक पार करते समय लोगों को सावधानी बरतनी चाहिए। उन्होंने बताया कि रेल प्रशासन अब अभियान चलाकर कार्रवाई करेगा।