रायपुर। मानसून की लगातार अच्छी बारिश के कारण प्रदेश के प्रमुख 42 सिंचाई जलाशयों में अब तक औसत रूप से 95 फीसदी से ज्यादा पानी भर गया है। इनमें से 16 जलाशय लबालब हो चुके हैं। सुबह आठ बजे तक की स्थिति में इनमें पांच हजार 956 मिलियन घन मीटर पानी भर जाने की जानकारी जल संसाधन विभाग के राज्य डाटा सेन्टर से मिली है।

लबालब 16 जलाशयों में बालोद जिले का तांदुला, खरखरा जलाशय, गोंदली, दुर्ग का खपरी, धमतरी का मुरुमसिल्ली, कांकेर जिले का परालकोट जलाशय, बस्तर का कोसरडेडा, रायगढ़ जिले के केदार नाला, पुटका और किनकारी जलाशय, बलौदाबाजार का बल्लार , राजनांदगांव जिले का मोंगरा और मटियामोती, कोरिया जिले का झुमका और गेज टैेंक और सरगुजा जिले का बरनोई शामिल हैं। डाटा सेन्टर के अधिकारियों ने बताया कि इन सभी जलाशयों में छह हजार 266.839 मिलियन घन मीटर पानी जमा होने की क्षमता है। गंगरेल जलाशय में निर्धारित क्षमता का 98.52 फीसदी पानी भर चुका है।

11 जलाशयों में 90 फीसदी से अधिक पानी

इसी प्रकार बेहारखार जलाशय में 99.20, कोडार में 97.93,मिनी माता बांगों जलाशय 95.55 फीसदी, तथा मनियारी जलाशय 90.08 फीसदी भर चुका है। दुधावा जलाशय में 94.70, सिकासार जलाशय में 93.97, खारंग जलाशय में 90.06, सोंढूर जलाशय में 93.70, छीरपानी में 92.22, सुतियापाट में 92.24, सरोदा 94.20 पानी का भराव हो चुका है।

बाकी में तेजी से जल भराव

अधिकारियों ने बताया कि बाकी जलाशयों में पिछले दो दिनों की बारिश कारण तेजी से जल भराव हो रहा है। घोंगरा जलाशय में निर्धारित क्षमता का 64.60, श्याम जलाशय में 86.70, पिपरिया नाला जलाशय 75.17, तथा मरोदा जलाशय में 74.91 प्रतिशत, मटिया मोती जलाशय में 96.64, झुमका जलाशय में 68.59, गेज जलाशय में 66.90, खमार पाकुट जलाशय में 34.16, केशवा जलाशय में 78.60, कर्रानाला बैराज में 75.40, बांकी जलाशय में 38.72, कुंवरपुर जलाशय में 58.25,कुम्हारी जलाशय में 78.68, बरनई जलाशय में 38.48, पेण्ड्रावन जलाशय में 77.39, रूसा 79.41, मयाना जलाशय में 53.21 प्रतिशत तथा धारा जलाशय में निर्धारित क्षमता का 54.15 प्रतिशत पानी जमा हो चुका है।

Posted By: