रायपुर। राजधानी के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में 209 नर्सिंग अधिकारियों की नियुक्ति हुई है। इनके लिए एम्स की कार्यप्रणाली के बारे में जानकारी देने के लिए छह दिवसीय ओरिएंटेशन कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। नए नर्सिंग अधिकारियों के आने के बाद इनकी संख्या 900 से अधिक हो गई है। उप-निदेशक (प्रशासन) अंशुमान गुप्ता ने बताया कि दिल्ली एम्स के द्वारा नर्सिंग ऑफिसर्स रिक्रूटमेंट कॉमन एलिजिब्लिटी टेस्ट-2021 का आयोजन किया गया था।

इस बार 80 प्रतिशत पद महिलाओं के लिए और 20 प्रतिशत पुरुषों के लिए आरक्षित किए गए थे। इस प्रक्रिया के अंतर्गत एम्स रायपुर को 261 नर्सिंग अधि‍कारियों की नियुक्ति मिली। इनमें से अभी तक 209 ज्वाइन कर चुके हैं। अभी आप्शन-2 के अंतर्गत भी कई नर्सिंग अधिकारी ज्वाइन कर सकते हैं। एम्स में ज्वाइन करने वाले नर्सिंग अधिकारियों में से करीब 60 प्रतिशत छत्तीसगढ़ के रहने वाले हैं। इनमें भी अधिकांश महिला नर्सिंग अधिकारी हैं।

तीन दिवसीय कार्यक्रम का आयोजन

नए नर्सिंग अधि‍कारियों को एम्स की कार्यप्रणाली और विभिन्न् विभागों के बारे में जानकारी देने के उद्देश्य से दो भागों में तीन दिवसीय ओरिएंटेशन कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। इसमें डीन (अकादमिक) प्रो. आलोक सी. अग्रवाल और नर्सिंग कालेज की प्राचार्य डा. बीनू मैथ्यू के निर्देशन में नए नर्सिंग अधिकारियों को उपयोगी जानकारियां प्रदान की जा रही हैं। अस्पताल की कार्यप्रणाली, सेवा शर्तें, रोगियों के साथ व्यवहार, संक्रमण नियंत्रण की प्रक्रिया, रोगियों के डाक्यूमेंट तैयार करने, बेसिक लाइफ सपोर्ट जैसे प्रशिक्षण शामिल हैं।

इन्होंने दिया प्रशि‍क्षण

प्रशिक्षण कार्यक्रम में प्रो. सरिता अग्रवाल, प्रो. कृष्णदत्त चावली, प्रो. विनय आर. पंडित, डा. रमेश चंद्राकर, ह्वी सीतारामु, डा. दिबाकर साहू, डा. मनीषा सिन्हा, विनोद , सजीत नायर, देवाशीष भद्रा आदि की ओर से नए नर्सिंग अधिकारियों को प्रशिक्षण दिया गया।

Posted By: Pramod Sahu

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close