रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। ट्रांसपोर्ट कंपनी में नौकरी दिलाने के नाम पर एक कार चालक से करीब डेढ़ लाख रुपये ठगने का मामला सामने आया है। पीड़ित की शिकायत पर तेलीबांधा पुलिस ने आरोपित अभिजीत बेहरा के खिलाफ चार सौ बीसी का केस दर्ज किया है। फिलहाल आरोपित फरार है।

पुलिस के मुताबिक मूलत: ग्राम मलाडा (गंजाम) हाल अवंती विहार, गली नंबर चार विजयनगर निवासी डी. रामाराव (34) पेशे से ओला कंपनी में कार चालक है। आरोपित अभिजीत बेहरा ओला वाहन की बुकिंग करता था।चार अगस्त 2022 को होटल टायटोन में रुके अभिजीत ने अपने ट्रांसपोर्ट में नौकरी दिलाने के नाम पर रामाराव से नकदी और क्रेडिट कार्ड के माध्यम करीब डेढ़ लाख रुपये ठग लिए।

रामाराव ने बताया कि कार में अभिजीत बेहरा और उनके साथ एक महिला आई थी। उन्होंने अच्छा घर खरीदने के लिए कालोनी दिखाने को कहा। रामाराव ने उन्हें दो दो जगहों पर घुमाया। आनंदम कालोनी कचना का घर पसंद आने पर उन्होंने बुक कर लिया। दूसरे दिन आरोपित ने होटल में बुलाकर कहा- मैं फेसबुक में काम करता हूं और मेरा यहां ट्रांसपोर्ट का व्यवसाय है।

आप मेरी ट्रांसपोर्ट कंपनी में काम कर लो, फायदे में रहोगे। इसके बाद क्रोमा शो रूम वीआइपी चौक ले जाकर उसके बजाज फायनेंस कार्ड से एक मोबाइल 76 हजार 638 रुपये का फायनेंस करवा लिया और कहा कि इसका ईएमआइ मेरी कंपनी भरेगी। बाद में नौकरी लगाने के नाम पर दस्तावेज ले लिए। यही नहीं, आइसीआइसीआइ बैंक में सैलरी एकाउंट खुलवाकर 22 हजार 500 रुपये एसबीआइ के अपने खाते में ट्रांसफर करा लिया।

Posted By: Pramod Sahu

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close