रायपुर। Drunk and Drive case in Raipur प्रदेश में शराब पीकर गाड़ी चलाने (ड्रंक एंड ड्राइव) के मामले प्रति वर्ष बढ़ रहे हैं। पुलिस मुख्यालय से मिले आकड़ों के अनुसार कोरोनाकाल में वर्ष 2020 में 1371, 2021 में 1570 वाहन चालक शराब पीकर गाड़ी चलाते पकड़े गए थे। 2022 में इनकी संख्या में 21 प्रतिशत से ज्यादा इजाफा हुआ है। 2000 वाहन चालक शराब पीकर गाड़ी चलाते पकड़े गए। इनसे दो करोड़ रुपये जुर्माना वसूला गया। औसतन प्रत्येक वाहन चालक से न्यूनतम 10 हजार रुपये जुर्माना वसूला गया। इन वाहन चालकों को पुलिस ने लाइसेंस निलंबित करने और दंडित करने की चेतावनी भी दी।

तीन वर्ष से नहीं हुई ब्रीथ एनालाइजर खरीदी

शराब पीकर वाहन चलाने वालों की जांच करने के लिए पिछले तीन साल से ब्रीथ एनालाइजर की खरीदी नहीं हुई है। अभी इसकी खरीदी की प्रक्रिया शुरू की गई है। ब्रीथ एनालाइजर की आपूर्ति होते ही पुलिस थानों और ट्रैफिक पुलिस को दिया जाएगा।

पांच जिलों में नहीं मिला एक भी शराबी चालक

राज्य पुलिस ने एक जनवरी से 31 दिसंबर 2022 के बीच शराब पीकर वाहन चलाने वालों के खिलाफ पूरे प्रदेश में अभियान चलाया। इस दौरान रायपुर में 282 लोग शराब पीकर वाहन चलाते पकड़ेे गए थे। वहीं, बेमेतरा, बीजापुर, खैरागढ़-छुईखदान-गंडई, मोहला-मानपुर-अंबागढ़ चौकी और सक्ती में शराब पीकर वाहन चलाता कोई भी नहीं पकड़ा गया। इसके पीछे मुख्य वजह जांच के लिए ब्रीथ एनालाइजर नहीं होना बताया जा रहा है। अभियान के दौरान

यह है नियम

शराब पीकर वाहन चलाते हुए पकड़े जाने पर मोटर व्हीकल एक्ट की धारा 185 के तहत कार्रवाई की जाती है। वहीं धारा 207 के तहत वाहन को जब्त कर कोर्ट में पेश किया जाता है। इस दौरान वाहन चालक को कोर्ट में उपस्थित होकर अपना पक्ष रखने के साथ ही दस्तावेज पेश करना पड़ता है। इसमें न्यूनतम 10 हजार रुपये जुर्माना, छह माह कारावास का प्रविधान है। शराब पीकर वाहन चलाने वालों की ट्रैफिक पुलिस समय-समय पर ब्रीथ एनालाइजर के जरिए जांच करती है।

फैक्ट फाइल

वर्ष - केस- जुर्माना

2020 - 1371 - 6034747

2021 - 1570 - 1376300

2022 - 2000 - दो करोड़ रुपये

वर्जन-

शराब पीकर वाहन चलाते हुए पकड़े जाने पर वाहन को जब्त कर संबंधित व्यक्ति के खिलाफ कोर्ट में चालान पेश करते हैं। बीते वर्ष करीब 2000 वाहन चालकों को शराब पीकर वाहन चलाते हुए पकड़ा गया था। प्रदेश में ड्रंक एंड ड्राइव के मामले बढ़ रहे हैं। इस पर रोक लगाने के लिए सख्ती से कार्रवाई कर रहे हैं।

-संजय शर्मा, एआइजी ट्रैफिक

Posted By: Vinita Sinha

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close