रायपुर। Raipur News: राजधानी के एम्स अस्पताल में सोमवार की देर रात अचानक बिजली गुल होने से हड़कंप मच गया। यहां घंटों तक बिजली गुल रहने से कोरोनावायरस संक्रमण से पीड़ित मरीजों की हालत खराब हो गई। पीड़ितों के परिजनों को जानकारी मिली तो उन्होंने जल्द से जल्द यहां लाइट व्यवस्था करने की मांग की। एम्स अस्पताल के 1सी 2 ब्लॉक में घंटों लाइट बंद होने से अफरा-तफरी मची रही। जानकारी के मुताबिक यहां 33 केवी बिजली के आपूर्ति में बाधा आई है। हालांकि की जानकारी मिली है कि बिजली विभाग का अमला लगातार बिजली आपूर्ति सुधारने में लगा रहा। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार यहां पर कई कोरोनावायरस से संक्रमित गंभीर मरीज ऑक्सीजन की व्यवस्था नहीं हो पाने से तड़पते रहे। मामले में एम्स प्रबंधन से संपर्क करने की कोशिश की गई, लेकिन संपर्क नहीं हो पाया।

एम्स जैसे अस्पताल में बिजली आपूर्ति बाधित होना बड़ी चिंता

परिजनों का कहना है कि एम्स जैसे अस्पताल के कोविड आईसीयू वार्ड मैं इस तरह बिजली गुल होना ठीक नहीं हैं। यहां के सभी वार्ड भरे हुए हैं, लेकिन बिजली की आपूर्ति बाधित होना यहां बड़ी चिंता है। ऐसे में आईसीयू वार्ड में रखे गए मरीज की सांसे उखड़ने लगती है।

बिजली नहीं मिल पाने से यह प्रक्रिया होती है प्रभावित

कोरोनावायरस से संक्रमित मरीजों को री ब्रिदिंग मास्क यानी मुंह से आक्सीजन दी जाती है। मरीजों को जब सांस लेने में दिक्कत होती है तो इसका उपयोग किया जाता है। अगर मरीज बहुत गंभीर हो जाता है तो उसे एचएफएलओ मशीन के जरिए ऑक्सीजन की मात्रा दी जाती है । ज्यादा मात्रा में ऑक्सीजन पहुंचाना है तो इसका इस्तेमाल किया जाता है। ऐसे में बिजली नहीं होने से इस प्रक्रिया में बाधा उत्पन्न होने की संभावना बढ़ जाती है।

Posted By: Himanshu Sharma

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020