रायपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। समय - सुबह सात बजे। स्थान - पं. रविशंकर शुक्ल उद्यान कलेक्टोरेट परिसर। उद्यान में 20 लोग एक्सरसाइज कर रहे थे। लगाई गई मशीन पर महिला, बच्चे, युवा और बुजुर्ग सभी अभ्यास कर रहे थे। वहीं दूसरी ओर मुख्यमंत्री निवास से सटे गांधी उद्यान में भी लोग सेहत बना रहे थे। मौके पर मौजूद लोगों को यह नहीं पता था कि कौन सी मशीन महिलाओं और बच्चों के लिए है और कौन सी युवाओं के लिए।

आखिर पता भी कैसे होता? राजधानी के अनुपम उद्यान को छोड़कर किसी भी उद्यान में एक्सरसाइज का मानक नहीं दिया गया हैं। जो मशीनें महिलाओं और बच्चों के लिए उपयोगी नहीं हैं, उन पर भी महिलाएं और बच्चे जोर-आजमाइश कर रहे थे।

ये हैं नियम

किसी भी उद्यान में लगे एक्सरसाइज उपकरण को चलाने और उसकी निर्धारित प्रक्रिया को बताया जाता है। साथ ही बच्चे और महिलाओं के लिए भी नियम और शर्तें डाली जाती हैं। साथ ही फिटनेस गाइडलाइन के अनुसार 13 साल से कम बच्चों के लिए अलग से उपकरण लगाने के निर्देश दिए गए हैं।

युवा, प्रौढ़ और बुजुर्गों के लिए नियम बनाए गए हैं। हर पार्क में लगे ओपन जिम एरिया में इस संबंध में बोर्ड भी लगाया जाएगा, ताकि कोई कंफ्यूजन न हो। बच्चों को जिम एरिया में न जाने की चेतावनी भी होगी। वहीं बच्चे भी आते हैं तो उनके लिए अलग उपकरण लगाए जाएं।

इसके अलावा गाइडलाइन में यह प्रावधान भी शामिल किया जा रहा है कि जिम उपकरण लोगों के लिए पूरी तरह से सुरक्षित हों। अगर एक्सरसाइज के दौरान जिम के टूटने या क्षतिग्रस्त होने से किसी को नुकसान होता है तो उसकी भरपाई भी उक्त संस्थान करेगा।

इन लोगों के लिए नहीं हैं मशीनें

-जिन लोगों की हड्डी टूट चुकी है

- उच्च रक्तचाप वाले मरीज न करें

- गर्भवती महिलाएं न करें

- दूध पिलाने महिलाएं न करें

- मासिक धर्म वाली महिलाएं न करें

- अत्याधिक शुगर की अवस्था वाले न करें

विशेषज्ञों की राय

- उद्यान में निगम ने एक्सरसाइज उपकरण लगाए गए हैं, लेकिन उनके उपयोग करने की सूची नहीं दी गई है। साथ ही 13 साल से कम उम्र के बच्चे भी उपकरण का उपयोग कर रहे हैं, जो उनके लिए हानिकारण है। हड्डी को पूरी तरह से प्रभावित कर सकती है। बच्चों के लिए छोटे और सुविधाजनक उपकरण लगाए जाते हैं। वहीं महिलाओं के लिए भी कई उपकरण लाभप्रद नहीं हैं। सभी उपकरण के दिशा-निर्देश लगा दिए जाएं तो लोगों को सुविधा होगी, अन्यथा मसल्स और हड्डियों में परेशानी आ सकती है। - डॉ. गितेश अमरोहित, फिजियोथैरेपिस्ट

अनुपम गार्डन में बोर्ड लगाया है। आपका सुझाव सही है। अन्य सभी उद्यानों में एक्सरसाइज उपकरणों के सामने जानकारी परख बोर्ड लगने चाहिए। जल्द ही इस संबंध में आगे प्रक्रिया की जाएगी।- निशा देवेन्द्र यादव, अध्यक्ष, उद्यानिकी विभाग, नगर निगम, रायपुर