रायपुर। Raipur News गुढ़ियारी थाना क्षेत्र के रामनगर इलाके में रविवार को दिनदहाड़े ठेकेदार की चाकूओं से गोदकर हत्या के फरार आरोपित को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के मुताबिक, रविवार को धनेश्वर प्रसाद पाल की हत्या के बाद आरोपित जयराम ध्रुव फरार हो गया था। जिसकी तलाश में थाना पुलिस समेत साइबर सेल की कई टीमें उसके संभावित सभी ठिकानों पर तलाश में जुटी थी। पुलिस ने आरोपित को आजाद चौक थाना क्षेत्र के रामकुंड इलाके से पकड़ा है।

भांजी को डांटने पर हुआ था विवाद

मृतक धनेश्वर प्रसाद पाल ठेकेदारी करता था बताया जा रहा है। आरोपित जयराम की भांजी बच्चों के साथ खेल रही थी। इसी दौरान ठेकेदार ने किसी बात पर आरोपित की भांजी को डांट दिया। जिसको आरोपित जयराम ने मृतक को अपनी भांजी को डांटने से मना किया। इसे लेकर दोनो में विवाद होने लगा और देखते ही देखते विवाद इतना बढ़ा कि मारपीट के बाद हत्या में तब्दील हो गया।

पैसे के विवाद पर हत्या :

आरोपित से पुलिस ने कड़ाई से पूछताछ करने पर उसने बताया कि जून 2021 में मंदिर हसौद के सिवनी गांव में हुई हत्या को भी स्वीकार किया है। नहर में गुढियारी निवासी राजेश्वर साहू की मिली लाश मामले में आरोपित जयराम ध्रुव द्वारा हत्या करना स्वीकार किया है। फिलहाल मंदिर हसौद थाना पुलिस आरोपित को पुलिस रिमांड पर लेकर पूछताछ करेगी। मंदिर हसौद थाने में मर्ग कायम है। आरोपित के पुलिस रिमांड के बाद उसे हत्या में दर्ज किया जाएगा। दरअसल मृतक और आरोपित के पैसे को लेकर विवाद हुआ था। इस दौरान आरोपित जयराम ध्रुव ने डंडे से मारकर नहर में फेंक दिया था। पीएम रिपोर्ट में मौत की वजह पानी में डूबने से आया था।

गौरतलब है कि रामनगर पुलिस चौकी के समीप हुई हत्या सेघटना के प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि मृतक और आरोपित के बीच बहस होते हुए देखा था। इसके बाद आरोपित ने मृतक के कमर के नीचले हिस्से पर वार कर दिया। जयराम ने अपने पास रखे चाकू से धनेश्वर के जांघ, कूल्हे समेत शरीर के अन्य हिस्से में ताबड़तोड़ वार कर दिया। मृतक ने खुद को बचाने की कोशिश की। काफी खून बहने की वजह से वह जमीन पर गिर पड़ा। इस दौरान आरोपित भागने में सफल रहा।

Posted By: Vinita Sinha

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close