रायपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि। Raipur News आरटीओ के 29 फरवरी के बाद बीएस4 वाहनों के पंजीयन के लिए आवेदन न लेने के फैसले के बाद से राजधानी सहित प्रदेश भर के ऑटोमोबाइल बाजार में हड़कंप मच गया है। डीलरों ने इस संबंध में कंपनियों से मदद मांगी है। ऑटोमोबाइल कारोबारी चेक कर रहे हैं कि उनके पास कितना स्टॉक बचा है। राडा अध्यक्ष मनीषराज सिंघानिया ने बताया कि सोमवार को ऑटोमोबाइल कारोबारी परिवहन आयुक्त डॉ. कमलप्रीत सिंह से मिलकर अवधि बढ़ाने की अपील करेंगे। उनके अनुसार अभी कारोबारियों के पास जो स्टॉक बचा हुआ है, उसे इतने कम समय में क्लीयर कर पाना मुश्किल है।

वाहन कारोबारियों के अनुसार आरटीओ से मिले आदेश की कॉपी सभी डीलरों ने अपनी-अपनी कंपनियों को भेज दी है। रविवार की छुट्टी होने के कारण कंपनी की ओर से कोई निर्देश नहीं मिला। सोमवार शाम तक कंपनी अपने डीलरों को बता देगी कि वे क्या करें। संभावना जताई जा रही है कि स्टॉक क्लीयर करने के लिए कंपनियां ऑफरों की बौछार कर सकती हैं।

पहली अप्रैल से देशभर में रोक

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार देश भर में पहली अप्रैल से बीएस4 वाहन का पंजीयन नहीं होगा। वाहन कारोबारी 31 मार्च तक स्टॉक क्लीयर कर सकते हैं। दूसरी ओर शनिवार को आरटीओ की ओर से आदेश दिया गया कि बीएस4 वाहनों के पंजीयन अप्रूवल के लिए सभी लंबित प्रकरण 29 फरवरी तक जमा किया जाएं। इससे वाहनों का पंजीयन सही समय में होगा।

ग्राहकों को बीएस3 वाहनों जैसे ऑफर का इंतजार

कारोबारियों से मिली जानकारी के अनुसार ग्राहक इंतजार में हैं कि बीएस3 वाहनों के स्टॉक क्लीयरिंग के दौरान मिलने वाले ऑफर फिर मिलेंगे। बताया जा रहा है ग्राहक डीलरों को फोन कर कह रहे हैं कि ऐसा ऑफर आने पर उनके लिए गाड़ी रिजर्व रखें और बुकिंग कर दें। गौरतलब है कि जब बीएस3 वाहनों की बिक्री बंद हुई थी तो कंपनियों ने दो दिनों के लिए भारी डिस्काउंट दिया था।

न घबराएं डीलर

ऑटोमोबाइल डीलरों को घबराने की आवश्यकता नहीं है, लेकिन अपना स्टॉक क्लीयर करने में लगे रहें। परिवहन आयुक्त से मिलकर निर्देश को पूरी तरह से स्पष्ट किया जाएगा। देश भर में एक अप्रैल से बीएस4 वाहनों का पंजीयन बंद होगा।

-अमर पारवानी, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष,कैट

Posted By: Hemant Upadhyay