रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। बिजनेस के सिलसिले में दिए सिक्युरिटी राशि को वापस करने को लेकर मारपीट करने वाले दो आरोपितों को सिविल लाइन थाना पुलिस ने गिरफ्तार किया है। दोनों आरोपित लगभग एक वर्ष से फरार चल रहे थे। पुलिस ने आरोपित पवन मेघानी और अमित मेघानी को गिरफ्तार किया है। दोनों आपस में भाई है।

प्रार्थी राजवीर नयनराणा ने 24 अगस्त 2021 को रिपोर्ट दर्ज कराया था कि लक्की हार्डवेयर के संचालक के बुलाने पर अपने कंपनी के लीगल एडवाईजर इंद्र कुमार स्वर्णकार के साथ कटोरा तालाब आया हुआ था। वहां पर दुकान के संचालक पवन मेघानी और उसका भाई अमित मेघानी एवं अंकित मेघानी मौजूद था। कुछ समय बात करने के बाद अचानक से पवन मेघानी दुकान के बाहर का शटर अंदर से गिरा दिया।

इसके बाद बोलने लगा कि बिजनेस में सिक्युरिटी के लिए 50 हजार रुपये लिया है, उसे तुरंत वापस करो नहीं तो मुझसे बुरा नहीं होगा। प्रार्थी ने तत्काल ही पैसा नहीं होने की बात कहने पर आरोपितों ने गाली-गलौज करने लगे। इसके बाद जान से मारने की धमकी देते हुए मारपीट की। इसके बाद डरा, धमकाकर मोबाइल एवं सोने की अंगूठी छीन लिया। आरोपितों की पुलिस लगातार तलाश कर रही थी। एक वर्ष बाद दोनों को गिरफ्तार किया। एक आरोपित फरार है।,जिसकी तलाश पुलिस कर रही है।

वाहन चोरी करने वाला अपचारी बालक गिरफ्तार

भीड़भाड़ का फायदा उठाकर दुकान के सामने से दो पहिया चोरी करने वाले नाबालिग को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। उसके कब्जे से चोरी गए वाहन को जब्त किया है। प्रार्थी संजय मत्थानी रिपोर्ट दर्ज कराया कि 29 नवंबर को शाम करीबन 6.30 बजे दोपहिया वाहन को शंकर नगर चौपाटी के पास खड़ी कर कुछ सामान लेने चला गया था। एक घंटे बाद वापस आने के बाद वाहन गायब था।

सिविल लाइन थाना पुलिस ने अपराध कायम कर जांच शुरू की। इसी मुखबीर से सूचना प्राप्त हुआ कि एक लड़का चोरी के गाड़ी को बेचने की फिराक में कटोरा तालाब के पास ग्राहक तलाश रहा है। इस पर टीम ने कार्रवाई करते हुए आरोपी नाबालिग को गिरफ्तार कर लिया।

Posted By: Pramod Sahu

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close