रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। टैगोर नगर के पास बैंक आफ बड़ौदा के सामने 10 लाख रुपये की उठाई गिरी हो गई। दिनदहाड़े लूट की वारदात से पुलिस हरकत में आई।लूट की वारदात का प्वाइंट चला तो थानों के फोन घनघनाने लगे। खबर मिलते ही थानेदार अलर्ट हुए और जो बल थाने में मौजूद था, उसे तत्काल तैनात कर नाकेबंदी कर दी गई। पुलिस ने तत्काल वायरलेस से प्वाइंट चलाया कि काले कलर का बैग और ब्राउन कलर का बैग जिसमें 10 लाख रुपये थे, दो बाइक में सवार चार लोग लूट कर भाग गए है। जो सफेद शर्ट, सफेद टी-शर्ट और चेक दार शर्ट पहने हैं।

सूचना को गंभीरता पूर्वक लेते हुए वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन में तत्काल रायपुर पुलिस की अलग-अलग टीमों द्वारा व्यक्तियों को पकड़ने के लिए अपने-अपने थाना क्षेत्र में नाकेबंदी पाइंट लगाया गया। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय व अन्य पुलिस राजपत्रित अधिकारियों द्वारा स्वयं भी फील्ड में उतरकर नाकेबंदी पाइंट्स का जायजा लिया जा रहा था।जिले में कुल 48 से अधिक नाकेबंदी पाइंट लगाए गए थे।

माक ड्रिल में बरती गई थी गोपनीयता

रायपुर पुलिस की टीम द्वारा घटना में संलिप्त व्यक्तियों को चार स्थान पर लोकेट किया जाकर तत्परता पूर्वक कार्य करते हुए अंतत: पकड़ा गया। इस तीन घंटे की लूट की माकड्रिल में कुछ जगह व्यवस्था दुरुस्त थी तो कहीं सुरक्षा की पोल खुल गई ।एसपी प्रशांत अग्रवाल ने शुक्रवार शाम लूट की वारदात का माकड्रिल कराया। इसकी पूरी तरह से गोपनीयता बरती गई। इसकी जिम्मेदारी पुलिस विभाग के उच्च अधिकारियों को दे दी गई थी।

बेहतर काम के लिए पांच आरक्षकों का सम्मान

बेहतर काम के लिए एसएसपी प्रशांत अग्रवाल ने कोतवाली आरक्षक निराधार ध्रुव, राजेंद्र यदु, यातायात से मनोज सावड़े, खमतरई से रमेश यादव और सुदीप मिश्रा को नकद राशि से पुरस्कृत किया गया।

Posted By: Ravindra Thengdi

NaiDunia Local
NaiDunia Local