रायपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

राष्ट्रीय सुरक्षा जागरण मंच और अवसर फाउंडेशन द्वारा गुरुवार को नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) पर मंथन कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें विषय विशेषज्ञ के तौर पर प्रसून मैत्रा, कोलकाता ने विस्तार से अपनी बात रखी। वहीं सदन एक मंथन उत्कर्ष की ओर नागरिकता संशोधन अधिनियम सीएएए पर पक्ष और विपक्ष दोनों ही पक्षों के बीच तर्क वितर्क भरी चर्चा हुई। जिसमें कई लोगों ने अपनी बात रखी। कार्यक्रम का उद्देश्य सीएए के प्रति लोगों में जो भ्रमक स्थिति पैदा हुआ है। उसे दूर करना। साथ ही लोगों को सीएए के प्रति जागरूक करना था। इस अवसर पर प्रसून मैत्रा ने कहा, रायपुर पहुंचते ही मालूम चला कि, ये कार्यक्रम स्थान किसी कारणवश ऐन वक्त पर बदल दिया गया। फिर भी लोग काफी संख्या में पहुंचे। लोगों की बातचीत प्रश्न उत्तर और पक्ष विपक्ष का तर्क वितर्क सुनकर लगा सीएए कानून के बारे में ज्ञान की कमी है, सीएएए कानून बहुत पहले आ जाना चाहिए था। कार्यक्रम के जरिए नागरिकता संशोधन अधिनियम से संबंधित सभी भ्रम और गलतफहमीओ को इस कार्यक्रम में दूर ने की कोशिश की गई। इस कार्यक्रम में सभी वर्गों के सदस्य उपस्थित रहे, जिसमें महिलाएं, युवा बुजुर्ग शामिल होकर अपनी राय दी।

सीएएए पर पक्ष विपक्ष में बोले लोग

मंथन कार्यक्रम में दो ग्रुप बनाया गया। जहां लोग दोनों पक्षाों में अपनी राय दी। पक्ष में अरविंद उदास, आदित्य, तोरण ठाकुर, शुभम उपाध्याय सीपज मिश्रा, जितेंद्र साहू और विपक्ष में सौम्य मिश्रा ,निशांत सिंह ठाकुर ,गौरव शर्मा ,गौरव पांडे ने अपने विचार गंभीरतापूर्वक और तथ्यपरक तरीके से रखें। तर्क वितर्क भरे इस कार्यक्रम में उपस्थित लोगों ने एक्पर्ट से अपने प्रश्न पूछे और अपनी जिज्ञासा शांत की।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket