रायपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

रविवि यूनिवर्सिटी के पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष प्रखर मिश्रा ने अपने चार-पांच साथियों के साथ पुरानी बस्ती थाना क्षेत्र के अश्वनीनगर में शनिवार की आधी रात एक घर में घुसकर एनएसयूआइ कार्यकर्ता हिमांशु शर्मा की डंडे से पिटाई कर दी। घटना के दौरान बीच-बचाव करने आए हिमांशु की मां व बड़े भाई को भी पीट दिया। शिकायत पर पुलिस ने प्रखर मिश्रा, प्रशांत मिश्रा समेत अन्य के खिलाफ अपराध कायम कर लिया है। इससे पहले भी प्रखर के खिलाफ मारपीट के कई केस दर्ज हैं।

पुरानी बस्ती थाना प्रभारी दुर्गेश रावटे ने बताया कि पीआरटी कॉलोनी, अमलेश्वर(दुर्ग) निवासी पेशे से बीएचएमएस डॉक्टर प्रियांशु शर्मा (30) शनिवार को अपनी मां श्रीमती नंदनी शर्मा, छोटे भाई हिमांशु शर्मा के साथ अपने मामा दीपक पांडेय के अश्वनीनगर स्थित घर आए थे। रात दो बजे सभी बैठकर बातचीत कर रहे थे, तभी दरवाजे पर दस्तक की आवाज सुनकर उनके ममेरे भाई आदित्य ने दरवाजा खोला तो सामने डंगनिया निवासी प्रशांत मिश्रा खड़े थे। प्रशांत ने हिमांशु से बात करने को कहा। हिमांशु बात करने पहुंचा तो प्रशांत के भाई प्रखर मिश्रा ने रंजिश का बदला लेने के लिए हिमांशु पर डंडे से हमला कर दिया, जबकि उसके साथी हाथ, मुक्का से मारपीट करने लगे। भाई को पिटते देखकर प्रियांशु और उसकी मां ने बीच-बचाव करने की कोशिश की तो झूमा-झपटी कर उनकी भी पिटाई कर दी और भाग निकले। मारपीट में हिमांशु, प्रियांशु के सिर व सीने में चोट आई है। निजी अस्पताल में इलाज कराने के बाद डॉ.प्रियांशु शर्मा ने थाने आकर घटना की रिपोर्ट लिखाई।

बलवा, मारपीट के कई केस में नामजद

घायल हिमांशु शर्मा का आरोप है कि प्रखर मिश्रा ने 20 साथियों के साथ घर में घुसकर डंडे व राड से मारपीट की। बीच बचाव करने में डॉ.प्रियांशु को गंभीर चोट आई है। निजी अस्पताल के आइसीयू में उनका इलाज चल रहा है। दोनों भाइयों के हाथ-पैर की हड्डियां फै्रक्चर हो गई है। प्रखर द्वारा पूर्व में भी युवा कांग्रेस महासचिव अमिताभ पर भी अपने साथियों के साथ जान से मारने की कोशिश की जा चुकी है। कोतवाली पुलिस ने मामूली धाराओं में प्रखर मिश्रा व उसके साथियों गिरफ्तार कर रात में ही थाने से छोड़ दिया था। उसके खिलाफ अलग-अलग थानों में मारपीट, बलवा के कई केस दर्ज है। कल रात की घटना में प्रखर मिश्रा, प्रशांत मिश्रा, सूरज पांडेय, परमेश्वर वर्मा समेत अन्य शामिल थे। पुरानी बस्ती पुलिस ने भी जमानती धाराएं लगाई हैं।