रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। Real Estate Blossomed: नवरात्र में रियल स्टेट का कारोबार रायपुर जिले में खिल उठा। रायपुर जिले के अंतर्गत आने वाले उप पंजीयन कार्यालयों में नवरात्र के पांच दिनों में जमकर रजिस्ट्री हुई है। इसका उदाहरण है कि एक अक्टूबर से 13 अक्टूबर तक जिले में कुल 1974 रजिस्ट्री हुई है। इससे विभाग को कुल 23 करोड़ 544 लाख रुपये के राजस्व की प्राप्ति हुई है, जिसमें स्टांप शुल्क 1560.71 तो पंजीयन शुल्क 744.73 है।

नवरात्र में रजिस्ट्री कराने के लिए लोगों ने पहले से ही आनलाइन बुकिंग करा लिया था। जबकि इस साल नवरात्र में सिर्फ पांच दिन ही रजिस्ट्री कार्यालय खुला था, बाकी तीन दिन अवकाश होने की वजह से बंद था, लेकिन रजिस्ट्री करवाने वालों को किसी प्रकार की दिक्कत नहीं हुई।

ज्ञात हो कि कोरोना संक्रमण के बाद जमीन खरीदी बिक्री में इजाफा हुआ था, लेकिन सितंबर माह में निगम ने अवैध प्लाटिंग करने वाले करीब सौ लोगों के खिलाफ अलग-अलग पुलिस थानों शिकायत दर्ज कराया है। जिसमें करीब दो दर्जन से अधिक लोगों के खिलाफ अपराध दर्ज हुआ है। जिससे रजिस्ट्री में गिरावट आयी थी। मगर, नवरात्र में एक बार फिर रियल स्टेट में उछाल आया है। रायपुर पंजीयन कार्यालय को मुख्यालय ने इस साल छह अरब 82 करोड़ लाख रुपये का टागरेट शासन से मिला है, जिसमें सितंबर माह तक एक अरब 49 करोड़ 50 लाख 89 हजार 680 रुपये का टारगेट पूरा कर लिया है।

ग्रामीण इलाकों में भी आई तेजी

नवरात्र को शुभ मानते हुए ग्रामीण अंचलों में भी खरीदी बिक्री ने जमकर रफ्तार पकड़ी है। आरंग में 49 लाख की आय के साथ 149 रजिस्ट्री हुई, तिल्दा-नेवरा में 75 रजिस्ट्री हुई, लेकिन आय 71.81 लख रुपए हुई। नवा रायपुर की संपत्ति में भी लोगों की रुचि दिखाई है। महज दस दिन में ही नवा रायपुर में भी 129 रजिस्ट्री हुईं। जिसमें विभाग को कुल एक करोड़ 87 लाख 93 हजार रुपए की आय हुई थी।

उप पंजीयक - स्टांप फीस- पंजीयन शुल्क- कुल दस्तावेज

रायपुर एसआर-1 - 275.70 - 128.97 - 343

रायपुर एसआर-2 - 366.01 - 178.66 - 361

रायपुर एसआर-3- 235.34 - 98.73 - 261

रायपुर एसआर 4 - 244.70 -109.90 - 308

रायपुर एसआर-5- 244.06 -114.18 - 347

आरंग - 30.42 - 19.48 - 149

तिल्दा-नेवरा - 44.94 - 26.87 - 75

नवा रायपुर - 119.51 - 67.93 129

कुल- 1560.71 -744.73 -1974

सितंबर माह में कम हुई रजिस्ट्री

जिला पंजीयन विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक सितंबर माह में कुल 61 करोड़ 50 लाख 19 हजार 846 रुपए आय प्राप्त हुई थी। जबकि अगस्त माह में 62 करोड़ 02 लाख 31 हजार 176 रुपए और जुलाई माह में 63 करोड़ 19 लाख 02 हजार 467 रुपए प्राप्त हुए थी। सितंबर में 52 लाख 11 हजार 330 रुपए कम आय प्राप्त हुई। कोरोना वायरस संक्रमण में बीते एक साल से आनलाइन अप्वाइंटमेंट सिस्टम से पंजीयन बुकिंग की जा रही है।

Posted By: Shashank.bajpai

NaiDunia Local
NaiDunia Local