रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए प्रदेश में 15 से 18 वर्ष के किशोर एवं किशोरियों का तीन जनवरी से टीकाकरण किया जाएगा। इसके लिए कोविन एप पर एक जनवरी से पंजीयन होगा। वहीं स्वास्थ्य कर्मियों, फ्रंटलाइन वर्कर्स और गंभीर बीमारियों से पीड़ित 60 वर्ष से अधिक के लोगों को 10 जनवरी से कोरोना वैक्सीन की तीसरी खुराक दी जाएगी।

इस वर्ग के ऐसे लोग, जिन्हें दूसरी खुराक लिए नौ महीने या 39 सप्ताह पूरे हो चुके हैं, उन्हें तीसरी खुराक दी जाएगी। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पात्र नागरिकों से कोविन एप में पंजीयन कर तीसरा टीका लगवाने की अपील की है। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग को किशोर-किशोरियों को टीकाकरण सहित गंभीर बीमारियों से पीड़ित 60 वर्ष से अधिक लोगों को टीकाकरण के लिए लक्षित समूह को जानकारी देने के लिए इसका व्यापक प्रचार-प्रसार करने को कहा है। मुख्यमंत्री ने विशेष टीकाकरण के इस अभियान के लिए निर्धारित टीकाकरण केंद्रों की जानकारी भी प्रचारित-प्रसारित करने के निर्देश दिए हैं।

16 लाख 39 हजार किशोरों को लगेगा टीका

राज्य नोडल अधिकारी डा. प्रियंका शुक्ला ने बताया कि 15 से 18 वर्ष के प्रदेश के अनुमानित 16 लाख 39 हजार किशोरों के टीकाकरण की तैयारी पूर्ण कर ली गई है। इसके लिए सभी जिलों के टीकाकरण अधिकारियों का उन्मुखीकरण किया गया है। इन लाभार्थियों के लिए केवल को-वैक्सीन टीके का ही विकल्प रहेगा। उन्होंने बताया कि राज्य के करीब 3 लाख 40 हजार स्वास्थ्य कर्मियों, 3 लाख 19 हजार फ्रंटलाइन वर्कर्स और गंभीर बीमारी जैसे हार्ट डिसी, डायबिटीज, ब्लड प्रेशर, बोन मैरो ट्रांसप्लांटेशन, किडनी डिसी, हीमोडायलिसिस, कैंसर, सिकलसेल, एचआईवी एवं अन्य गंभीर बीमारियों से पीड़ित 5 लाख 16 हजार , 60 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को 10 जनवरी से कोरोना वैक्सीन की तीसरी खुराक दी जाएगी।

जानिए प्रदेश में कितने लोगों को लगा टीका

प्रदेश में 27 दिसम्बर तक कोरोना से बचाव के लिए पहली और दूसरी, दोनों खुराकों को मिलाकर कुल तीन करोड़ छह लाख 26 हजार 018 टीके लगाए जा चुके हैं। प्रदेश के एक करोड़ 87 लाख 63 हजार 444 नागरिकों को कोरोना वैक्सीन की पहली खुराक दी जा चुकी है। वहीं एक करोड़ 18 लाख 62 हजार 574 लोगों को दोनों टीके लगाए जा चुके हैं। टीकाकरण के लिए पात्र प्रदेश की 95 प्रतिशत आबादी को पहला टीका और 62 प्रतिशत को दोनों टीके लगाए जा चुके हैं।

Posted By: Sanjay Srivastava

NaiDunia Local
NaiDunia Local