रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। शहीद वीरनारायण सिंह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में 27 सितम्बर से रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरिज क्रिकेट टूर्नामेंट शुरू हो रहा है। इस टूर्नामेंट में 1 अक्टूबर तक पांच अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट मैच खेले जाएंगे। रायपुर शहर से वीरनारायण सिंह स्टेडियम तक दर्शकों को आने-जाने के लिए बस की सुविधा उपलब्ध रहेगी।

एनआरडीए इस दौरान बीआरटीएस की बसें चलाएगा, लेकिन बसें निश्शुल्क नहीं रहेगी। यह बसें क्रिकेट मैच के दिनों में रेल्वे स्टेशन से शुरू होकर डीकेएस भवन-तेलीबांधा होते हुए अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम तक चलेगी। वहीं, इसके लिए दर्शकों से शुल्क लिया जाएगा।

27 सितंबर को होने वाले मैच निश्शुल्क देखने की सुविधा शासन की ओर से दी गई है, लेकिन यात्री बसों में दर्शकों से आने जाने के लिए शुल्क लिया जाएगा। वहीं, यात्रियों की सुविधा के लिए एनआरडीए द्वारा इसकी समय सारिणी जारी कर दी गई है। इन बसों से स्टेडियम तक पहुंचने और वापस शहर आने के लिए दर्शकों को निर्धारित शुल्क देकर टिकट लेनी होगी।

27 सितंबर के दोनों मैच के लिए अलग बसें

एनआरडीए से प्राप्त जानकारी के अनुसार 27 सितम्बर को होने वाले दोनों मैचों के लिए अलग-अलग बसें चलेंगी। दोपहर साढ़े तीन बजे शुरू होने वाले मैच के लिए रेल्वे स्टेशन से बसें दोपहर एक बजकर पचास मिनट से दो बजकर दस मिनट तक की अवधि में हर दस मिनट में चलेगी। इसी दिन शाम साढ़े सात बजे शुरू होने वाले दूसरे मैच के लिए रेल्वे स्टेशन से बसें शाम साढ़े पांच बजे से छह बजकर दस मिनट तक की अवधि में हर दस मिनट के अंतराल पर रवाना होंगी।

हर पांच मिनट में रहेगी एक बीआरटीएस बस

इसी तरह 28 सितम्बर, 29 सितम्बर और 1 अक्टूबर को शाम साढ़े सात बजे शुरू होने वाले मैचों के लिए रेल्वे स्टेशन से बसें शाम पांच बजकर पच्चीस मिनट से लेकर छह बजकर दस मिनट तक की अवधि में हर पांच मिनट के अंतराल पर रवाना होंगी। सभी मैचों के समाप्ति के बाद बीआरटीएस बसों में यात्रियों की निर्धारित संख्या पूरी होने के बाद ही बसें वापस रायपुर शहर के लिए रवाना होगी।

रात 12:30 बजे निकलेगी आखिरी बस

स्टेडियम से रायपुर वापस आने के लिए अंतिम बीआरटीएस बस रात साढ़े बारह बजे निकलेगी। सभी बसों में यात्रा करने के लिए यात्रियों को निर्धारित शुल्क अदा कर टिकट लेनी होगी। मैच के दिनों में यात्रियों की मांग के अनुसार बसों की संचालन की संख्या में कमी या बढ़ोतरी की जा सकेगी।

Posted By: Pramod Sahu

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close