Robbery in Raipur : रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के देवेन्द्र नगर थाना इलाके में हुई डकैती मामले में पुलिस ने पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। गुरुवार 13 फरवरी की रात पंडरी के छितिज अपार्टमेंट में डकैती हुई थी। एसएसपी आरिफ शेख ने मामले का खुलासा करते हुए बताया है कि सीसीटीवी कैमरे से डकैतों का क्लू मिला। 50.14 लाख स्र्पये की डकैती करने के बाद नागपुर होते हुए दिल्ली के लिए आरोपित रवाना हुए थे। दिल्ली पहुंचने से पहले ही डकैतों को ट्रेन पर दबोच लिया गया। डकैती में शामिल सभी पांचों आरोपी राजस्थान के बिकानेर निवासी हैं। मुख्यारोपी मेलाराम व्यापारी बबलू शर्मा के घर दो साल तक काम चुका था । नगदी रकम कहां रखते हैं, इसकी जानकारी मेलाराम को थी। आरोपितों में अशोक जाखड़, प्रेम जाट, जय किसान गोदारा, भवर चौधरी शामिल हैं। पांचों ने मिलकर डैकती की घटना को अंजाम दिया था।

दिल्ली में पहले से मौजूद थी पुलिस

एसएसपी ने बताया कि एक अन्य मामले की जांच के सिलसिले में छत्तीसगढ़ की पुलिस दिल्ली में पहले से मौजूद थी। डकैती होने की सूचना इस टीम को दी गई। सभी अलर्ट हो गए। और ट्रेन के दिल्ली पहुंचने से करीब 30 किमी पहले ही पुलिस ने सभी को धर दबोचा। मामले का मास्टरमाइंड व्यवसायी का पूर्व कर्मचारी मेला राम है। जिसने करने की योजना बनाई थी। उसने बीकानेर के प्रोफेसनल डैकटों को डकैती की सुपारी दी थी।

गुरूवार की रात हुए डकैती की सूचना पुलिस को मिली तो होश उड़ गए। पुलिस तत्काल अलर्ट हुई। दो टीमें बनाकर जांच के लिए रवाना किया गया था। इन टीमों के साथ-साथ एक टीम पहले ही बाहर थी,उनकी मदद ली गई। आईटीएमएस के जरिये आरोपियों के संबंध में क्लू मिला। पांच आरोपी घटना के बाद नागपुर गए और उसके बाद दिल्ली के लिए रवाना हुए। ट्रेन में ही पुलिस की टीम ने एक व्यक्ति की पहचान कर ली थी।

पांचों एक साथ ट्रेन में थे इसमंे से चार लोग सोए थे। चलती ट्रेन के अंदर इन्हें धर दबोचा गया है। ये सभी दिल्ली में उतरने वाले थे। 49 लाख 10 हजार स्र्पये नगद बरामद कर लिया गया है। एक देशी कट्टा भी आरोपितों के पास से जब्त हुआ। बताया गया है कि डकैती के ये आरोपित पांचों सीरियल किलर हैं। पांचों मर्डर के मामले में पहले भी जेल जा चुके हैं।

इधर बीकानेर में सुपारी देने वाले डकैती के आरोपी मेलाराम को भी ट्रेस कर लिया गया है। इस मामले में डीजीपी ने एक लाख, आईजी ने 30 हजार स्र्पये मामले को सुलझाने वाले टीम को इनाम देने की घोषणा की है। लूटी गई रकम हवाला का होने के सवाल पर एसएसपी ने कहा कि इसकी अभी जानकारी नहीं मिली है। समूचे मामले की जांच कराई जा रही है।

Posted By: Anandram Sahu

fantasy cricket
fantasy cricket