रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। इंग्लैंड से नवा रायपुर घुमने गए भारतीय मूल के अप्रवासीय परिवार नवा रायपुर में लूट का शिकार हो गया।तीन अज्ञात युवकों ने धमकाकर जेवर समेत तीन लाख का सामान लूट लिया।घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया।लूट की यह वारदात 27 सितंबर की है लेकिन बुधवार को पीड़ित की शिकायत पर राखी पुलिस थाने में लूट के बजाए चोरी का केस दर्ज किया गया। पुलिस अफसरों का कहना है कि घटनास्थल के आसपास के सीसीटीवी फूटेज खंगाले जा रहे है।जल्द ही लुटेरे पकड़ लिए जायेगे।

मिली जानकारी के मुताबिक मूलत: विजय भवन, इरेटाचिरा किलिमनूर, तिरुवनंतपुरम ग्रामीण(केरल)निवासी किरण जोशी(36)वर्तमान में इंग्लैंड में रहकर आइटी सेक्टर मे नौकरी कर रहे है।25 सितंबर को वे जापान निवासी अपनी पत्नी मिएको शंकर और बेटी अमेलिया शंकर के साथ रायपुर में रहने वाले मित्र पंकज राजपूत से मिलने व नवा रायपुर घुमने आए थे।होटल कोर्टयार्ड मैरियट में रूकने के बाद 27 सितंबर को दोपहर में चेक आउट कर रात नौ बजे वापस विमान से लौटने वाले थे।इस बीच समय होने पर नवा रायपुर घुमने की योजना बनाई।

किरण ने पुलिस को बताया कि होटल से निकलकर दोस्त की कार से मेफेयर ढाबा में भोजन करके हनुमान जी मंदिर टीला चंपारण दर्शन करने गए। हनुमान मंदिर से लौटने पर बालको मेडिकल हास्पीटल के पास रोड किनारे कार खडी की।इस बीच बेटी का डायपर बदलने पत्नी ने कार की डिक्की से डायपर और गीले टिश्यू लेने बाहर गई।

जब वह सामान लेने जा रही थी तब उन्होंने बेटी को गोद में ले रखा था,जबकि दोस्त ड्राइविंग सीट पर था।इसी बीच पत्नी के जोर से शोर मचाने पर मैं बाहर निकला तो देखा कि तीन अज्ञात बदमाश पत्नी को धमकाकर जेवर,पैसे मांग रहे है।पत्नी व बेटी की सुरक्षा का ख्याल रखकर किरण ने बदमाशों का विरोध करना उचित नहीं समझा।इस बीच बदमाश कार की डिक्की से दो सूटकेस निकालकर काले रंग की बाइक से भाग निकले।

सूटकेस में यह था सामान

किरण जोशी ने बताया कि घटना की शिकायत करने थाने जाने पर कहा गया कि लूटे गए सामान की सूची बनाकर दे।इसके बाद मैने दोनों सूटकेस में रखा दो लैपटाप, सोने की तीन चेन,सोने की चार चुडी,सोने का कंगन, कैमरा, कीमोनो जापानी पारंपरिक पोशाक,टेबलेट,सोने की पायल एक जोडी, बच्चे का सोने का कमर चेन, डायमंड पेंडेंट समेत तीन लाख के सामान की सूची दी।घटना के बाद रात की फ्लाइट से किरण जोशी परिवार समेत दिल्ली चले गये थे।फिर दिल्ली से चेन्नई पारिवारिक कार्यक्रम में शामिल होने के बाद पुलिस थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई।

चेहरे पर स्कार्फ बांधकर आए थे लुटेरे

दिनदहाड़े लूट की वारदात को अंजाम देने वाले 25 से 30 वर्ष के आयु के तीनों लुटेरों ने अपने चेहेरे पर स्कार्फ बांध रखा था।तीनों ने टी शर्ट,बनियान व पैंट पहना था।

Posted By: Pramod Sahu

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close