रायपुर ( नईदुनिया प्रतिनिधि )। Sawan 2021 In Raipur: सावन के दूसरे सोमवार पर शिव मंदिरों में जलाभिषेक करने भक्तों की आस्था छलक पड़ी। गली, मोहल्लों के मंदिरों में सुबह से ही श्रद्धालु जलाभिषेक करने पहुंचे। बड़े मंदिरों में गर्भगृह तक नहीं जाने दिया गया। इस वजह से लोग छोटे मंदिरों में जल अर्पण करते रहे और शिव महामंत्र 'ऊ नमो शिवाय' का जाप किया। शिवलिंग पर दूध, दही, शहद, शक्कर, जल से बनाए पंचामृत के साथ बेलपत्ता, फूल, आक, धतूरा अर्पित किया।

सुबह रुद्राभिषेक

महादेव घाट, हटकेश्वर मंदिर के पुजारी पंडित सुरेश गिरी गोस्वामी ने बताया कि सुबह भोलेनाथ का रुद्राभिषेक किया गया। पुजारियों के अलावा केवल दो भक्तों को गर्भगृह में प्रवेश दिया गया। कोरोना नियमों के चलते बिना टीकाकरण किए भक्तों को रुद्राभिषेक के लिए गर्भ गृह में नहीं जाने दिया जा रहा। एक बार में दो भक्त ही अभिषेक करेंगे।

शाम को प्रकृति सौंदर्य

अभी मंदिरों में जलाभिषेक का दौर दोपहर तक चलता रहेगा। दोपहर को पट बंद करके शिवलिंग का श्रृंगार करेंगे। महादेव घाट में प्रकृति की सुंदरता को दर्शाया जाएगा। इसका दर्शन शाम 5 बजे के बाद कर सकेंगे।

अपनी मन्नत शिव के गण नंदी से कही

पूजा करते वक्त युवतियों ने भगवान भोलेनाथ तक अपनी बात पहुंचाने के लिए शिव के गण नंदी के कान में मन्नत को दोहराया।

कोरोना महामारी से मुक्ति की प्रार्थना

शंकर नगर कचना रोड पर स्थित सुरेश्वर महादेव पीठ में ब्रह्म मुहूर्त में जलाभिषेक किया गया। समिति के महामंडलेश्वर राजेश्वरानंद सरस्वती ने बताया कि कोरोना महामारी से संपूर्ण विश्व को मुक्ति दिलाने की प्रार्थना भोलेनाथ से की गई।

Posted By: Kadir Khan

NaiDunia Local
NaiDunia Local