रायपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

देश में इंजीनियरिंग परीक्षा का दौर अप्रैल से शुरू हो रहा है। वहीं इसमें कुछ ऐसे भी स्टूडेंट्स हैं, जो आर्थिक स्थिति ठीक न होने से प्रवेश परीक्षाओं से पीछे हट जाते हैं। ऐसे छात्रों को ध्यान में रखकर कुछ संस्थाएं स्कॉलशिप प्रदान कर रही हैं। इसमें इंडियन ऑयल, एनटीपीसी, ओएनजीसी, अल्पसंख्यक आयोग व अन्य वे संस्थाएं हैं, जो छात्रों के लिए प्रतिमाह के खर्च और इंजीनियरिंग में लगने वाली फीस की पूरी जिम्मेदारी उठा रही हैं। इसमे छात्रों के चयन की प्रक्रिया के लिए कुछ मापदंड दिए गए हैं। इसे पूरा करने वाले छात्रों का पूरे चार वर्ष तक का खर्च वहन किया जाता है।

---------------------

पारिवारिक आय एक लाख से कम हो

इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन के तहत स्कॉलरशिप प्राप्त करने वाले छात्रों को किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय में पूर्णकालिक इंजीनियरिंग कोर्स के पहले वर्ष में एडमिशन लेना आवश्यक है। छात्र के परिवार की कुल वार्षिक आय 1,00,000 लाख रुपए से कम होनी चाहिए।

स्कॉलरशिप की राशि इसमें प्रतिमाह आवंटन के लिए 2000 रुपए की राशि निर्धारित है। प्रत्येक वर्ष 100 छात्रों को यह स्कॉलरशिप प्रदान की जाएगी।

------------

मेरिट कम मीन्स बेस्ड स्कॉलरशिप

मेरिट कम मीन्स बेस्ड स्कॉलरशिप अल्पसंख्यक मामलों के मंत्रालय द्वारा स्नातक में अध्ययन करने वाले छात्रों को प्रदान की जाती है। इसमें इंजीनियरिंग करने वाले छात्र भी शामिल हैं।

अल्पसंख्यक समुदायों जैसे मुस्लिम, सिख, ईसाई, पारसी और जैन आदि के छात्र योग्यता के आधार पर इस स्कॉलरशिप का लाभ ले सकते हैं। स्कॉलरशिप प्राप्त करने के लिए छात्र को किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय में एडमिशन लेना आवश्यक है। छात्र के परिवार की कुल वार्षिक आय 250000 रुपए से कम होनी चाहिए।

स्कॉलरशिप की राशि कोर्स के लिए भुगतान की गई फीस के साथ 10,000 रुपये प्रति वर्ष।

----------------

एनटीपीसी स्कॉलरशिप योजना

यह स्कॉलरशिप एनटीपीसी (नेशनल थर्मल पावर कार्पोरेशन लिमिटेड) द्वारा अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और विकलांग छात्रों को प्रदान की जाती है।

योग्यता 12वीं केछात्रों को किसी भी शाखा में पूर्णकालिक इंजीनियरिंग कोर्स जैसे इलेक्ट्रिकल, मैकेनिकल, इलेक्ट्रॉनिक्स, इंस्ट्रूमेंटेशन या कंप्यूटर साइंस में अध्ययनरत होना चाहिए।

स्कॉलरशिप की राशि में छात्रों को कोर्स के दूसरे साल से प्रतिमाह 1500 रुपये का भुगतान किया जाता है।

-------------

किशोर वैज्ञानिक प्रोत्साहन योजना फेलोशिप

भारत सरकार का विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग, विज्ञान, चिकित्सा और इंजीनियरिंग में पढाई करने वाले छात्रों को किशोर वैज्ञानिक प्रोत्साहन योजना फेलोशिप प्रदान करता है।

वह छात्र जो बीई, बीटेक, या बीआर्क के प्रथम या द्वितीय वर्ष में अध्ययन कर रहे हैं तथा कक्षा 10 और 12 में न्यूनतम 60% (अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के लिए 50%) अंक रखते हैं, इस स्कॉलरशिप योजना में आवेदन कर सकते हैं।

स्कॉलरशिप की राशि में प्रतिमाह 4000 से 7000 रुपये तक की फेलोशिप प्रदान की जाती है।

----------------

वीआईटी विश्वविद्यालय इग्नेट स्कॉलरशिप

भारत के शीर्ष विश्वविद्यालयों में से एक वेल्लोर इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी यूनिवर्सिटी (वीआईटी) है, जो इंजीनियरिंग डिग्री पाठ्यक्रम की पेशकश करती है।

12 वीं के ऐसे छात्रों ने वीआईटी के इंजीनियरिंग कोर्स में एडमिशन प्राप्त कर लिया है, इस स्कॉलरशिप योजना में आवेदन कर सकते हैं।

स्कॉलरशिप की राशि 200 योग्य छात्रों को छात्रवृत्ति प्रदान की जाएगी, जिसमें पूरे पाठ्यक्रम (4 वर्ष) के साथ ट्यूशन शुल्क शामिल होगा।

------------

इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी स्कॉलरशिप

यह देश के सभी आईआईटी में शीर्ष इंजीनियरिंग संस्थान हैं। इंजीनियरिंग पाठ्यक्रमों में प्रवेश लेने वाले अंडर ग्रेजुएट छात्रों को यहां सामूहिक रूप से 25 से अधिक छात्रवृत्तियां प्रदान की जाती हैं। इसके अतिरिक्त उच्च शिक्षा के लिए अन्य छात्रवृत्तियां और फेलोशिप प्रदान की जाती हैं।

अधिकांश स्कॉलरशिप और फेलोशिप आवेदन करने वाले छात्रों की योग्यता पर आधारित होती हैं। जेईई रैंकिंग और परिवार की आय एक निर्धारित पर दी जाती है।

18 दीपक अवस्थी 01 समय 1ः23

सं. आरकेडी

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local