रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। Crime News: राजधानी में टाइटन और फास्ट्रैक ब्रांड के नाम से नकली घड़ी और चश्मे लोगों को बेचे जा रहे थे। डुप्लीकेट को असली बताकर कमाई करने का खेल जोरों से चल रहा था। कंपनी की शिकायत और जांच के बाद दो दुकानों में रखा सामान जब्त किया गया है। पुलिस ने कुल 515 घडि़यां जब्त की हैं। वहीं, गोलबाजार थाने में दुकान संचालकों के खिलाफ कापीराइट एक्ट के तहत प्राथमिकी दर्ज करवाई गई है।

गोलबाजार थाने से मिली जानकारी के अनुसार, ईआइपीआर इंडिया प्रा. लिमिडेट के जांच अधिकारी मयंक शर्मा इंदौर मध्यप्रदेश द्वारा एक लिखित आवेदन दिया था। इसमें कहा गया था कि बंजारी रोड गोलबाजार स्थित गोदरीवाला आप्टिकल्स एवं नरेश वॉच के संचालक अपने दुकान में टाइटन एवं फास्ट्रेक कंपनी के चश्मा एवं घड़ी असली उत्पाद के नाम पर नकली सामान की बिक्री की जा रही है।

शिकायत तस्दीक एवं अग्रिम कार्यवाही के लिए थाने की टीम और ईआइपीआर इंडिया प्रा. लिमिडेट के जांच अधिकारी मयंक शर्मा, साक्षी सुमीत शर्मा और राज ठाकुर बंजारी रोड गोलबाजार स्थित गोदरीवाला आप्टिकल्स दुकान पहुंच कर जांच की। दुकान का संचालक मनीष चौथवानी से पूछताछ की गई।

जांच अधिकारी मयंक शर्मा द्वारा टाइटन एवं फास्ट्रैक के नकली उत्पादों को चिह्नित करने पर 20 नग हुबहु असली जैसा टाइटन कंपनी का टाइटन आई वियर नकली चश्मा और 110 नग फास्ट्रेक कंपनी की नकली हाथ घड़ी बरामदक की गई।

इसी तरह बंजारी रोड स्थित नरेश वॉच पहुंच कर जांच की गई। वहां से 385 फास्ट्रैक कंपनी की हुबहु असली जैसे दिखने वाली नकली हाथ घड़ी मिली। पुलिस ने धारा 51, 63 कापीराइट एक्ट के अंतर्गत साक्षियों के समक्ष जब्त कर सीललबंद कर दिया।

Posted By: Shashank.bajpai

NaiDunia Local
NaiDunia Local