रायपुर (राज्य ब्यूरो)। छत्तीसगढ़ में कोरोना की तीसरी लहर से बचाव की तैयारी को लेकर बुधवार को स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने समीक्षा की। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रोन की पहचान के लिए सैंपलों की जांच में तेजी लाएं। दूसरे देशों की यात्रा कर छत्तीसगढ़ पहुंचने वालों की स्क्रीनिंग और आवश्यक जांच की पुख्ता व्यवस्था करें। प्रतिदिन सैंपल जांच की संख्या बढ़ाएं और टीकाकरण में तेजी लाएं।

उन्होंने सभी अस्पतालों में उपकरणों और मशीनों का समुचित रखरखाव करते हुए चौक-चौबंद व्यवस्था रखने के निर्देश दिए हैं। स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव डा. आलोक शुक्ला ने नवीन विश्राम भवन में आयोजित बैठक में बताया कि सभी कलेक्टरों को नए वैरिएंट की त्वरित पहचान और बचाव के लिए विस्तृत दिशा-निर्देश दिए गए हैं। प्रदेश के तीनों हवाई अड्डों रायपुर, बिलासपुर और जगदलपुर में हेल्प डेस्क स्थापित किया गया है। बैठक में स्वास्थ्य विभाग की सचिव शहला निगार, स्वास्थ्य सेवाओं के संचालक नीरज बंसोड़, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की संचालक डा. प्रियंका शुक्ला, सीजीएमएससी के प्रबंध संचालक कार्तिकेय गोयल सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

आंबेडकर अस्पताल के नए अधीक्षक डा. नेताम ने संभाला पदभार

डा. भीमराव आंबेडकर स्मृति चिकित्सालय में रेडियोडायग्नोसिस विभाग के विभागाध्यक्ष डा. प्रो. एसबीएस नेताम ने बुधवार को संयुक्त संचालक सह अस्पताल अधीक्षक का कार्यभार ग्रहण किया। इस बीच डा. नेताम ने कहा कि चिकित्सालय में मरीजों को बेहतर उपचार उपलब्ध कराना उनकी पहली प्राथमिकता रहेगी। किसी को भी अस्पताल व इलाज से संबंधित समस्या आए तो उनके लिए अधीक्षक कार्यालय हमेशा खुला रहेगा। सीधे शिकायत कर सकते हैं।

Posted By: Ravindra Thengdi

NaiDunia Local
NaiDunia Local