मृगेंद्र पांडेय, रायपुर। Social Media Reality Check: छत्तीसगढ़ में राज्यसभा की खाली हो रही दो सीट पर दावेदारों के ताल ठोंकने के बीच एक तस्वीर ने नेताओं की धड़कन तेज कर दी है। प्रदेश में कांग्रेस के राष्ट्रीय महामंत्री मोतीलाल वोरा और भाजपा के राज्यसभा सदस्य रणविजय सिंह जूदेव का कार्यकाल पूरा हो रहा है। विधानसभा चुनाव में मिले बहुमत के आधार पर इस बार दोनों सीट पर कांग्रेस का कब्जा तय माना जा रहा है।

इस बीच, कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं की एक तस्वीर वायरल हुई, जिसमें वे प्रियंका गांधी के साथ नजर आ रहे हैं। इस तस्वीर में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के सलाहकार राजेश तिवारी, विनोद वर्मा सहित अन्य नेता नजर आ रहे हैं। राजेश तिवारी ने सोशल मीडिया पर इस तस्वीर को पोस्ट किया तो यह चर्चा तेज हो गई कि प्रियंका गांधी को राज्यसभा का उम्मीदवार बनवाने के लिए इन नेताओं ने प्रस्ताव दिया है।

दरअसल, इस तस्वीर का राज्यसभा चुनाव से कोई संबंध नहीं है। यह तस्वीर करीब एक महीने पुरानी है, जिसमें कांग्रेस नेता एक ट्रेनिंग कार्यक्रम में शामिल होने के लिए उत्तर प्रदेश गए थे। उसी दौरान इन नेताओं की प्रियंका गांधी से अनौपचारिक मुलाकात हुई।

कांग्रेस नेताओं की मानें तो इस मुलाकात के दौरान न तो सीएए-एनआरसी पर चर्चा हुई, न ही राज्यसभा सदस्य के चुनाव पर ही कोई बात हुई। कांग्रेस नेताओं की मानें तो यह तस्वीर एक विवाह कार्यक्रम के बाद की है। सभी नेता ट्रेनिंग में गए थे, उसी समय प्रियंका गांधी के कार्यक्रम की जानकारी मिली और इन लोगों ने मुलाकात की। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के अमेरिका दौरे के दौरान की तस्वीर सामने आने और राज्यसभा उम्मीदवार बनने की खबर के बाद राज्यसभा जाने की आस लगाए नेताओं की धड़कन तेज हो गई।

कस्र्णा-गिरीश का नाम राज्यसभा की दौड़ में

कांग्रेस के उच्च पदस्थ सूत्रों की मानें तो विधानसभा के बजट सत्र के बाद राज्यसभा उम्मीदवार के नाम पर चर्चा होगी। प्रदेश में कस्र्णा शुक्ला और गिरीश देवांगन का नाम दावेदारों की दौड़ में है। वरिष्ठता और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की पसंद के आधार पर दोनों नेताओं का नाम सामने आ रहा है। हालांकि जातिगत समीकरण के आधार पर एक दर्जन नेता दावेदारी ठोंक रहे हैं। ये नेता प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया से लेकर केंद्रीय संगठन तक दौड़ लगा रहे हैं।

Posted By: Anandram Sahu