रायपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

दिल्ली में हुई हिंसा के बाद राजधानी रायपुर समेत पूरे प्रदेश में अलर्ट जारी किया गया है। बुधवार को डीजीपी ने सभी रेंज के आइजी और एसपी की वीडियो क्रांफ्रेंसिंग लेकर अलर्ट रहने के निर्देश दिये थे। इसके बाद रायपुर एसएसपी आरिफ शेख ने देर रात को सीएसपी और थानेदारों की बैठक ली। उन्होंने अफसरों को अपने इलाको में अतिरिक्त गश्त करने के साथ किसी भी तरह की गड़बड़ी करने वालों पर सख्त कार्रवाई करने को कहा है।

सोशल मीडिया पर धार्मिक उन्माद समेत देशद्रोही मैसेज वायरल करने वालों के लिए सायबर सेल को अलर्ट रहने के निर्देश दिए गए। ऐसे लोगों पर आइटी एक्ट समेत विभिन्ना धाराओं में कड़ी कार्रवाई करने को कहा गया। पूरे प्रदेश में एनआरसी और सीएए के विरोध और समर्थन में बने धरनास्थल पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

देश की राजधानी दिल्ली में सीएए और एनआरसी के विरोध के नाम पर हिंसा करने वालों ने 20 लोगों की जान ले ली। वहां हिंसक घटनाओं में अब तक सैकड़ों लोग जख्मी हुए हैं। दिल्ली में भड़की हिंसा के बाद अब दूसरे राज्यों में भी इस तरह के हालात की आशंका के मद्देनजर चिंता हो रही है। आइबी की रिपोर्ट के आधार पर पूरे राज्य में पुलिस बल को अलर्ट मोड पर रखा गया है।

सोशल साइट पर मैसेज वायरल करना पड़ेगा भारी

अफसरों ने बताया- राज्य पुलिस को अंदेशा है कि यहां भी असामाजिक तत्व हिंसा फैला सकते हैं। सोशल मीडिया पर इन दिनों धार्मिक उन्माद समेत देशद्रोही मैसेज वायरल हो रहे हैं, लिहाजा ऐसा करने वालों पर सायबर सेल नजर रख रही है। लोगों के सोशल मीडिया खातों पर भी पुलिस की नजर है। वाट्सअप या फेसबुक, ट्विटर सहित किसी भी सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर सांप्रदायिक भड़काऊ पोस्ट करने वालों पर एफआइआर दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Nai Dunia News Network