रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। प्रदेश के मसीही समाज के लिए यह रविवार खास है। 15 मई को सभी गिरजाघरों में स्टीवर्टशिप संडे यानी भंडारीपन रविवार मनाया जाएगा। इस दिन मसीहीजन अपना टाइम, टेलेंट व ट्रेजर यानी ईश्वर प्रदत्त् समय, वरदान और आशीषों को समर्पित करने का संकल्प लेंगे। ताकि वे आत्मिक रूप से परमेश्वर की और भी नजदीकी में जीवन व्यतीत करें।

इसके लिए छत्तीसगढ़ डायसिस के सभी चर्चों में विशेष तैर से तैयारियां चल रही हैं। बिशप और पदाधिकारियों के वीडियो संदेश प्रसारित किए जा रहे हैं। छत्तीसगढ़ डायसिस के प्रवक्ता और स्टीवर्टशिप कमेटी के सचिव जॉन राजेश पॉल ने बताया कि स्टीवर्टशिप संडे 15 मई को पूरी छत्तीसगढ़ डायसिस में बिशप द राइट रेवरेंड अजय उमेश जेम्स की अगुवाई और मार्गदर्शन में मनेगा।

बिशप ने भंडारीपन रविवार की तैयारियों को लेकर पादरियों, डीकन, डायसिसन वर्कर, डायसिसन पदाधिकारियों और स्टीवर्टशिप कमेटी के पदाधिकारियों की मीटिंग भी ली। उन्होंने सभी पासबानों व स्टीवर्टशिप कमेटी से इसकी रिपोर्ट ली।

उन्होंने इस रविवार को उत्सव की तरह मनाने तथा सभी कलीसियाओं को इस पर्व की शुभकामना देते हुए ज्यादा से ज्यादा संख्या में आराधना में शामिल होने की अपील की। मीटिंग में शामिल पदाधिकारियों ने भी महत्वपूर्ण सुझाव दिए। डायसिस के सचिव पादरी अतुल आर्थर, उपाध्यक्ष पादरी अजय मार्टिन, कोषाध्यक्ष सुशील गुप्ता भी विशेष रूप से शामिल हुए।

इधर, भंडारीपन रविवार मनाने की तैयारियों के लिए रेवरेंड अजय मार्टिन ने सेंट पॉल्स कैथेड्रल चर्च कार्यालय में बैठक ली। बैठक में डीकन मारकुस केजू, डीकन अब्राहम दास, डीकन के. खुंटे, डीकन इस्माइल मसीह, सचिव सेंट पॉल्स कैथेड्रल मनशीश केजू, कोषाध्यक्ष जेवियर प्रकाश व सदस्य डायसिस एक्जीक्यूटिव कमेटी, अगस्टीन दास, डेविड बेंजामिन, कमलेश राम, शोमरोन केजू, गजेंद्र दान, संजीव संतैया, डिक्सन बैंजामिन, समीर तिमोथी, विनीत पॉल, दीपक बाघे, श राजेश लिविंगस्टन आदि शामिल हुए।

इस हफ्ते कलीसिया के सभी सदस्यों व परिवारों को मोटिवेट किया जाएगा कि वे ज्यादा से ज्यादा विशेष आराधना में शामिल हों और प्रभु की वेदी पर विशेष लिफाफों में दान भेंट करें। भंडारीपन अभियान के साथ ही मंडली में प्रतिज्ञापत्र भरवाने भी जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। कलीसिया दस प्रतिशत देनगी कि ओर बढ़ती जाए इसके लिए कार्य योजना बनाए जाएगी।

आराधना में शामिल होने वाले सदस्यों तक लिफाफे पहुंचाने की जिम्मेदारी सदस्यों को सौंपी जाएगी। कलीसिया के सदस्यों को सक्रिय करने व आराधनाओं में सहभागिता करने प्रोत्साहित किया जाएगा। बैठक में पादरी अजय मार्टिन, डीकन मारकुस केजू, डीकन अब्राहम दास, श्री मनशीष केजू, श्री अगस्टीन दास ने महत्वपूर्ण सुझाव दिए।

Posted By: Ravindra Thengdi

NaiDunia Local
NaiDunia Local