रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। शासकीय नागार्जुन स्नातकोत्तर विज्ञान महाविद्यालय के प्लेसमेंट सेल एवं विशेष रोजगार कार्यालय रायपुर के संयुक्त तत्वाधान में महाविद्यालय के ई क्लास रूम में व्यावसायिक मार्गदर्शन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में मुख्य वक्ता डिप्टी कलेक्टर आशुतोष देवांगन ने छात्रों से कहा कि वे अपने अंदर की आवाज को सुनें। गोल चुने, क्या करना है ? इसे तय करें। ध्येय ही सफलता की कुंजी है। कड़ी मेहनत करें। निरंतरता से अपने ध्येय की ओर अग्रसर हों।

उन्होंंने कहा जीवन में भटकाव न रखें, बार-बार एक ही प्रमाणिक पुस्तक से अध्ययन करें, अच्छी संगति चुने, निरंतर रिवीजन करें। टारगेट को समयबद्ध तरीके से पूर्ण करें। अपनी कमियों को समझें और उसे दूर करें। समाज में सम्मान पैसे से नहीं खरीदा जा सकता सिर्फ वेतन न देखें । बड़े सपने देखें और उसे पूरा करने के लिए स्मार्ट हार्ड वर्क करें। स्वयं का आकलन कर अपनी कमजोरियों को दूर करने का प्रयास करें, तभी सफलता आपके कदम चूमेगी।

कार्यक्रम में विशेष अतिथि सलिल साहू ने कहा कि कठिन मेहनत ही आपको सफलता दिला सकती है। सफलता का कोई शार्टकट नहीं होता है। अपने सपनों को जिए, त्याग व बलिदान से ही सफलता आपको मिल सकती है। गलत मित्रों से दूर रहें। 100 परसेंट गोल पर अपना ध्यान केंद्रित करें। प्लान जरूर बनाएं। फेसबुक, इंस्टाग्राम, टि्वटर को त्यागें, पढ़ाई में इंज्वाय करें। समयबद्धता और निरंतरता से अपने लक्ष्य को प्राप्त करने में लगे ,तो सफलता आपको अवश्य मिलेगी।

आबकारी उपनिरीक्षक डा. मेघा मिश्रा ने कहा कि जीवन में क्या करना है, यह तय करना होगा। लक्ष्य को निर्धारित करें। तभी आप उस लक्ष्य को प्राप्त करने में सफल हो पाएंगे। अच्छे साथी बनाएं। निरंतरता से लक्ष्य को हासिल करने के लिए समयबद्ध श्रम करें। प्रतिदिन के लक्ष्य को निर्धारित करें। सामूहिक डिस्कशन की आदत डालें। इन छोटी-छोटी बातों को यदि आप जीवन में अंगीकार करते हैं तो बड़ी से बड़ी परीक्षा आप सफल हो पाएंगे।

कार्यक्रम की अंतिम वक्ता डिप्टी कलेक्टर शशि कला ने कहा कि आज के इस आयोजन के प्रतिभागियों को हमारे वक्ताओं से प्रेरणा लेनी चाहिए। हमारा मकसद प्रतिभाओं को निखारने का है। यह आयोजन हम इसी उद्देश्य को को प्राप्त करने हेतु आयोजित कर रहे हैं। प्रति सप्ताह व्यावसायिक मार्गदर्शन का और रोजगार प्राप्ति का आयोजन हमारे यहां निरंतरता से प्रति सप्ताह किया जाता है।

Posted By: Ravindra Thengdi

NaiDunia Local
NaiDunia Local