राज्य में बीते दो माह में 12,700 लोगों के मोतियाबिंद का सफल ऑपरेशन

रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। राज्य में स्वास्थ्य विभाग द्वारा जन्मजात मोतियाबिंद से पीड़ित 53 बच्चों के सफल आपरेशन से आंखों की रोशन मिल गई है। वहीं पिछले दो महीनों में 12,700 लोगों के मोतियाबिंद का सफल आपरेशन किया गया है। मोतियाबिंद आपरेशन अभियान के अंतर्गत कोंडागांव के कुम्हारबड़गांव की दो बुजुर्ग महिलाओं का आपरेशन किया गया। इससे उनके जीवन में दोबारा उजाला हो गया है। ये दोनों बहनें मोतियाबिंद के कारण बीते दो सालों से दृष्टिहीनों जैसा जीवन जीने को मजबूर थीं।

स्वास्थ्य विभाग में अंधत्व निवारण समिति के प्रभारी संचालक डा. सुभाष मिश्रा ने बताया कि राज्य शासन ने 2025 तक मोतियाबिंद से दृष्टिहीनता को दूर करने का लक्ष्य रखा है। इसके लिए हर साल करीब एक लाख से अधिक लोगों के मोतियाबिंद का आपरेशन किया जाना है। हर वर्ष कार्निया ट्रांसप्लांट के माध्यम से करीब 200 लोगों को आंखों की रोशनी दी जाती है। इस वर्ष बीते दो महीनों अप्रैल और मई में प्रदेश में 12,700 लोगों के मोतियाबिंद का सफल आपरेशन किया जा चुका है। वहीं चिरायु दल द्वारा चिन्हांकित 79 जन्मजात मोतियाबिंद पीड़ित बच्चों में से 53 बच्चों का सफल आपरेशन किया गया है।

---------------------

वर्जन

अधिकतर मोतियाबिंद धीरे-धीरे विकसित होता है। शुरुआत में दृष्टि प्रभावित नहीं होती है, लेकिन समय के साथ यह देखने की क्षमता को प्रभावित करता है। ग्रामीण क्षेत्रों में मोतियाबिंद व इससे जुड़ी जागरूकता की कमी है।

- डा. सुभाष मिश्रा

Posted By: Ashish Kumar Gupta

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close