रायपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

यात्रियों की सुरक्षा के लिए रेलवे पुलिस चौबीस घंटे तत्पर है। यात्री जब ट्रेन में सफर के दौरान रात में सोते हैं, तब आरपीएफ के जवान यात्रियों की सुरक्षा के लिए रात भर ट्रेन में जागकर यात्रियों की रक्षा करते हैं। रायपुर मंडल से गुजरने वाली ट्रेनों मेल, एक्सप्रेस और पैसेंजर गाड़ियों का दुर्ग बिलासपुर तक यात्रियों की सुरक्षा के लिए सशस्त्र जवानों द्वारा आधुनिक उपकरणों के साथ ड्यूटी दे रहे हैं।

रायपुर रेलवे मंडल में रेलवे पुलिस ने गुरुवार को वर्ष 2018 के नवंबर माह में की गई कार्रवाई का आंकड़ा जारी किया है। आंकड़े में आरपीएफ ने सबसे ज्यादा रेलवे अधिनियम की विभिन्ना धाराओं के तहत 10, 601 लोगों के खिलाफ कार्रवाई कर 27,50, 905 रुपये जुर्माना की राशि वसूल किया है। वहीं रेलवे बोर्ड के आदेश के बाद भी आरपीएफ किन्नारों पर अंकुश नहीं लगा पा रहा है।

आरपीएफ के जवानों ने की प्रमुख कार्रवाई

- रेलवे की संपत्ति को अवैध तरीके से चोरी के 96 मामले में 122 आरोपियों को गिरफ्तार किया था । रेलवे ने इनके कब्जे से करीब 1 लाख 54 हजार 623 रुपये बरामद किए थे।

- रायपुर रेलवे मंडल से गुजरने वाली विभिन्ना ट्रेनों में बिना पर्याप्त कारण से ट्रेनों में जंजीर खीचने वाले कुल 802 लोगों के खिलाफ धारा 141 के तहत कार्रवाई कर 2 लाख 82 हजार 460 रुपये वसूल किया।

- ट्रेन तथा रेलवे परिसर में गंदगी फैलाने वाले तथा न्यूसेंस करने वाले कुल 2153 लोगों के खिलाफ कार्रवाई कर 2 लाख 7 हजार 990 रुपए वसूल किया।

- वर्ष 2018 में ट्रेनों तथा रेलवे परिसर में अनाधिकृत रूप से यात्रियों से पैसा मांगकर परेशान करने वाले कुल 526 किन्नारों के खिलाफ कार्रवाई कर 3 लाख 26 हजार 300 सौ रुपये वसूल किया है।

- ट्रेनों में अनाधिकृत रूप से फेरी करने वालों पर कुल 800 हाकरों के विरुद्ध कार्रवाई कर 5 लाख 57 हजार 040 रूपये जुर्माना वसूल किया है।

- महिला कोच में सफर करने वाले कुल 2131 पुरुष यात्रियों के विरुद्ध रेलवे अधिनियम के तहत कार्रवाई कर 1 लाख 88 हजार 840 रुपये वसूल किया है।