रायपुर। Naidunia Special Story: नईदुनिया के ''वट से बांधें सांसों की डोर'' अभियान का असर धरातल पर देखने को मिला। गुरुवार को महिलाओं ने सुबह होते ही पौधारोपण का सिलसिला शुरू कर दिया। कुछ ने वट सावित्री व्रत पर घरों में पूजा करने के बाद पौधारोपण किया। इस बार वट सावित्री व्रत पर महिलाओं ने नईदुनिया की मुहिम के तहत बरगद का पौधा लगाने का संकल्प लिया था। इसके तहत महिलाओं ने पहले वट सावित्री की विधि-विधान से पूजा-अर्चना की और बरगद आदि के पौधे लगाए। नेता प्रतिपक्ष मीनल चौबे ने भी अपने घर में पौधारोपण किया।

बरगद के पौधे लगाने के लिए महिलाओं का कारवां बनता ही गया। इस कार्य में परिवार के लोगों ने भी सहयोग किया। किसी ने अपने बच्चों के साथ बरगद समेत अन्य पौधों को रोपा तो कोई अपने पति की मदद से पौधारोपण करती नजर आईं। महिलाएं सार्वजनिक स्थलों के साथ-साथ घर के बगीचे में भी बरगद के पौधे लगाई हैं। जिन जगहों पर बरगद के पौधे नहीं मिले वहां भी पीपल, नीम, आम, अमरूद, गुड़हल, गुलाब आदि के पौधे लगाए गए। इस कार्यक्रम में महिलाओं के साथ-साथ पुरुषों ने भी सहयोग दिया। जनप्रतिनिधियों ने पौधारोपण करके लोगों को प्रेरित किया।

अपर कलेक्टर ने पति के साथ लगाया पौधा

रायपुर की अपर कलेक्टर पद्मिनी भोई ने अपने पति जितेंद्र कुमार के साथ बरगद का पौधा लगाया। पद्मिनी भोई ने कहा कि पौधोरोपण के लिए नईदुनिया का यह अभियान सराहनीय है। महिलाएं जागरूक होंगी तो पूरा परिवार जागरूक होगा। पूजा-पाठ करने के बाद अपने भी एक पौधा लगाया है।

अपनी नन्हीं बिटिया के साथ डॉक्टर चानन ने लगाया बरगद

राजधानी के अश्वनि नगर की रहने वाली डा. चानन गोयल ने वट सावित्री व्रत के मौके पर एक वट वृक्ष लगाया और सुख समृद्धि की दुआ मांगी। उनके साथ उनकी बच्ची त्विषा गोयल ने भी मदद की। डा. चानन ने कहा कि नईदुनिया की अभिनव पहल है ,बच्चों को अभी से पौधों के महत्व को समझना होगा।

अभी गमले में लगाया फिर सार्वजनिक जगह पर लगाएंगी

रायपुर के न्यू शांति नगर की रहने वाली नेहा त्रिवेदी ने कहा कि अभी घर के गमले में एक बरगद लगाया है। यह बड़ा होगा तो इसे सार्वजनिक जगहों पर लगाएंगी। कुछ साल पहले शांति नगर में बरगद का पौधा लगाया था जो आज विशाल हो गया। नईदुनिया की सराहनीय पहल है।

बरगद का पौधा लगाकर मिला सुकून

चेयरपर्सन ब्लू विंग ग्रीन आर्मी और प्रकृति की ओर की सदस्य, इसके अलावा दुर्गा कालेज के राष्ट्रीय सेवा योजना की प्रभारी अधिकारी के तौर पर काम कर रहीं सुनीता चंसोरिया ने बरगद का पौधा लगाया। उन्होंने कहा कि यह पौधा लगाने में उन्हें बेहद सुकून मिला।

शिक्षक ने अपनी पत्नी का किया सहयोग

साईं मंदिर के पास रायपुरा निवासी दानी गर्ल्स स्कूल के उप प्राचार्य डा. हितेश दिवान और उनकी पत्नी सुमन दीवान ने अपने घर के गार्डन में बरगद का पौधा रोपा। इसमें हितेश दिवान ने मदद की।

शिक्षिका ने लगाया बरगद का पौधा

शाउमावि पथरी में शिक्षिका गंगा शरण पासी ने अपने स्कूल परिसर पर खाली जगहों में पौधे रोपण किया। उन्होंने कहा कि हमें अधिक से अधिक पौधे रोपण कर पर्यावरण प्रदूषण को दूर करने का प्रयास कर सकते हैं।

शिक्षिकाओं ने मिलकर लगाया पौधा

राजधानी के विशाल नगर की रहने वाली शिक्षिका कविता आचार्य ने अपने अन्य शिक्षकों के साथ साथ पौधारोपण किया।

मिलेगी बरगद और पीपल की छाया

राज्य शैक्षणिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद के अधिकारी वीके तिवारी और उनकी पत्नी रजनी तिवारी ने शासकीय हायर सेकेंडरी स्कूल गिरौद के परिसर में पीपल एवं बरगद के पौधे रोपे। ताकि बच्चों को बरगद और पीपल की छाया में अध्ययन करने का अवसर मिल सके।

Posted By: Shashank.bajpai

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags